जल्द शुरु होगा चीन को चीनी का निर्यात

जल्द शुरु होगा चीन को चीनी का निर्यात

नई दिल्ली। चीन के साथ व्यापार घाटा कम करने की मुहिम के तहत भारत अगले वर्ष की शुरूआत से चीन को कच्ची चीनी का निर्यात प्रारंभ कर देगा।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने आज यहां बताया कि 15 हजार टन कच्ची चीनी के निर्यात के लिए इंडियन शुगर मिल एसोसिएशन (आईएसएमए) और चीन की सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी सीओएफसीओ के बीच समझौता किया गया है। इससे पहले चीनी निर्यात के लिए दोनों देशों के अधिकारियों के बीच कई दौर की बैठके हुईं थीं। गैर बासमती चावल के बाद चीनी दूसरा उत्पाद है जिसे भारत से चीन के बाजार में उतारा जाएगा। चीन के साथ भारत के 60 अरब डालर के व्यापारिक घाटे को कम करने की दिशा में यह महत्वपूर्ण कदम है। वर्ष 2017-18 के दौरान भारत ने चीन को 33 अरब डालर का निर्यात किया, जबकि चीन से भारत का आयात 76.2 अरब डालर है। भारत दुनिया में चीनी का सबसे बड़ा उत्पादक है। वर्ष 2018 में देश में तीन करोड 20 लाख टन चीनी की उत्पादन हुआ। भारत तीनों ही श्रेणियों- कच्ची, रिफाइंड और श्वेत - की चीनी का उत्पादन करता है। भारतीय चीनी उच्च गुणवत्ता वाली होती है और यह डैक्सट्रेन से मुक्त होती है, क्योंकि गन्ना काटने के बाद निम्नतम समय में मिल में गन्ने की पेराई होती है।

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top