मुम्बई में मंत्रालय में जहर पीने वाले किसान की मृत्यु

मुम्बई में मंत्रालय में जहर पीने वाले किसान की मृत्यु

मुंबई । सरकार पर जमीन अधिग्रहण के अनुचित भुगतान का आरोप लगाते हुए दो दिन पहले यहां मंत्रालय में आत्महत्या का प्रयास करने वाले धुले जिले के 80 वर्षीय किसान धर्मा पाटिल की कल रात सरकारी जे जे अस्पताल में मृत्यु हो गयी।
कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने किसान की मृत्यु के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।जे जे अस्पताल में उस समय हंगामा हो गया जब धर्मा पाटिल के पुत्र नरेन्द्र पाटिल ने जमीन अधिग्रहण के अनुचित भुगतान के विरोध में पिता का शव लेने से मना कर दिया।
सरकार की ओर से लिखित आश्वासन मिलने और मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस की ओर से स्वत: बात कर दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन मिलने के बाद नरेन्द्र पाटिल ने अपने पिता के शव को स्वीकार किया।
कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने मांग की है कि किसान की मृत्यु पर सरकार के खिलाफ धारा 302 लगाया जाना चाहिए।

Share it
Top