भाजपा ने शिवसेना को दी आत्मचिंतन करने की नसीहत

भाजपा ने शिवसेना को दी आत्मचिंतन करने की नसीहत

मुंबई। मीरा भाईंदर महानगर पालिका चुनाव में जैन मुनि पर आरोप लगाने की बजाय शिवसेना को खुद आत्मचिंतन करना चाहिए कि आखिर जनता ने उन्हें क्यों नकार दिया है। यह व्यक्तव्य महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष माधव भंडारी ने मुंबई में दिया है।
माधव भंडारी ने कहा कि राज्य में 2014 से शिवसेना को मिल रही पराजय का सिलसिला लगातार जारी है। खुद की लगातार हो रही पराजय का कारण ढ़ूंढऩे की बजाय पराजय का गुस्सा एक जैन मुनि पर निकालना उचित नहीं है। किसी भी आतंकवादी कृत्य करने वाले की तुलना जैन मुनि से करना शिवसेना की वैचारिक दिवालखोरी ही दर्शाता है।
भंडारी ने कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में सरकार उत्तम काम कर रही है। विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में हुए हर चुनाव में भाजपा की ताकत बढ़ी है। हर नगर पालिका, महानगर पालिका, जिला परिषद, पंचायत समिति चुनाव में जनता मुख्यमंत्री द्वारा किए जा रहे अच्छे कामों की वजह से भाजपा के पक्ष में मतदान कर रही है, यही शिवसेना के पेटदर्द का कारण है। मीरा भाईंदर चुनाव में हमें थोड़ी सफलता मिली और भाजपा को लोगों ने पूरी तरह सफलता दी, शिवसेना का इस तरह सोचना आश्चर्यजनक है। भंडारी ने कहा कि शिवसेना को जनादेश का आदर करना चाहिए ,जिससे जनता के मन में शिवसेना के प्रति कटुता निर्माण न हो सके, यह शिवसेना के लिए हितकर रहेगा।

Share it
Top