पूर्व मंत्री अब्दुल सत्तार शिवसेना में शामिल

पूर्व मंत्री अब्दुल सत्तार शिवसेना में शामिल


मुंबई,। पूर्व मंत्री अब्दुल सत्तार अपने समर्थकों के साथ शिवसेना में शामिल हो गए हैं। उन्होंने सोमवार को गणेश चतुर्थी के अवसर पर शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे की उपस्थिती में मातोश्री में शिवसेना में प्रवेश किया। उद्धव ने उनकी कलाई पर शिवबंधन बांधकर पार्टी में प्रवेश दिया।

औरंगाबाद की सिल्लोड विधानसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर दो बार विधायक रह चुके सत्तार शिवसेना में शामिल होने से जिले की राजनीति में हलचल मच सकती है। इस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस में रहते हुए सत्तार ने औरंगाबाद संसदीय सीट से टिकट मांगा था। टिकट न मिलने से नाराज होकर उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी। गृह निर्माण मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटिल के कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि सत्तार भी भाजपा में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, मेडिकल शिक्षा मंत्री गिरीश महाजन और पूर्व भाजपा अध्यक्ष रावसाहेब दानवे से उनकी बातचीत हुई थी। हालांकि जून 2019 में सत्तार ने उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी। तभी से चर्चा थी कि वे शिवसेना में शामिल होंगे। विधानसभा चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन होता है, तो सिल्लोड विधानसभा सीट भाजपा के कोटे में जाएगी। एेसे में शिवसेना की ओर से सत्तार को किस सीट से टिकट दिया जाएगा। इस पर रहस्य बना हुआ है। इससे पहले चर्चा थी कि आठ सितंबर के बाद भाजपा और शिवसेना में सीट बंटवारे को लेकर अहम चर्चा होनेवाली है। इसके बाद सत्तार अपने राजनीतिक जीवन की नई दिशा चुनेंगे। लेकिन रविवार की रात को सत्तार को मातोश्री से मुंबई पहुंचने का आदेश आया। सोमवार की सुबह सत्तार अपने समर्थकों के साथ मुंबई के लिए रवाना हुए।

अब्दुल सत्तार ने कहा कि पिछले पांच वर्ष से शिवसेना महाराष्ट्र में किसानों की फसल बीमा, ऋण माफी से संबंधित मुद्दों पर काम कर रही है। वास्तव में जब मैं कांग्रेस में था, तो यह एक विपक्षी दल के रूप में हमारी ज़िम्मेदारी थी। लेकिन सत्ता में रहते हुए भी शिवसेना ने यह जिम्मेदारी निभाई। इसी वजह से उन्होंने शिवसेना में प्रवेश किया है। पार्टी आने वाले दिनों में जो जिम्मेदारी देगी, उसे निष्ठा के साथ निभाएंगे।

Share it
Top