राम नाईक की याचिका पर सदानंद आश्रम पर तोड़क कार्रवाई रुकी, वसई आने पर महिलाओं ने उतारी आरती

राम नाईक की याचिका पर सदानंद आश्रम पर तोड़क कार्रवाई रुकी, वसई आने पर महिलाओं ने उतारी आरती


मुंबई। पालघर जिले की वसई तालुका स्थित तुंगारेश्वर पहाडिय़ों पर बने बालयोगी सदानन्द महाराज आश्रम पर पिछले दिनों से चल रही तोड़क कार्रवाई शुक्रवार को रोक दी गई। उत्तरप्रदेश के पूर्व राज्यपाल व वरिष्ठ भाजपा नेता राम नाईक की तोड़क कार्रवाई रोकने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश दिया है। अगली सुनवाई 6 सितंबर को होनी है। शनिवार को वसई आने पर राम नाईक का स्वागत किया गया। राम नाईक ने कहा कि आश्रम की तरफ से केस लड़ रहे वकील कोर्ट की सुनवाई के दौरान हाजिर नहीं हुए, इसलिए कोर्ट ने आश्रम को अवैध मानकर तोडऩे का आदेश दिया। सुरक्षा के मद्देनजर अभी भी आश्रम परिसर में धारा 144 लागू है।

जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर उत्तरप्रदेश के पूर्व राज्यपाल व वरिष्ठ भाजपा नेता राम नाईक वसई पूर्व के मुंबई अहमदाबाद हाइवे स्थित रूद्रा सेल्टर इंटरनेशनल होटल आए थे। इस दौरान बालयोगी श्री सदानन्द महाराज के ट्रस्टी व सैकड़ों भक्त महिलाओं ने उनकी आरती उतारकर स्वागत किया। राम नाईक ने कहा कि तोड़क कार्रवाई को लेकर जब आश्रम के ट्रस्टी उन्हें मिले तो उन्होंने आश्वासन दिया कि वह दिल्ली जाकर सुप्रीम कोर्ट से आश्रम पर हो रही तोड़क कार्रवाई को रोकने के लिए अपील करेंगे।

जिसके बाद शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के दोनों जजो से मिले और मंदिर, महाराज के माता पिता की समाधि व महाराज के रहने वाली जगह पर तोड़क कार्रवाई न होने के लिए अपील की। दोनों जजों की सहमति से यह निर्णय हुआ और कार्रवाई रोक दी गई। इस निर्णय से भक्तों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर खुशी जाहिर की। वरिष्ठ भाजपा नेता नाईक ने कहा कि कन्जर्वेशन एक्शन ट्रस्ट के कार्यकर्ता देबी गोयंका ने सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी कि सदानन्द महाराज का आश्रम वन विभाग की जमीन पर अवैध रूप से बना है। आश्रम की तरफ से केस लड़ रहे वकील कोर्ट की सुनवाई के दौरान हाजिर नहीं हुए, इसलिए कोर्ट ने आश्रम को अवैध मानकर तोडऩे का आदेश दिया। राम नाईक ने कहा कि अगली सुनवाई 6 सितंबर को होनी है। इस दौरान पालघर पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह, डीवायएसपी अश्विनी पाटील, भाजपा नेता रोहिदास पाटील, आगरी सेना के अध्यक्ष कैलाश पाटील, बालयोगी श्री सदानन्द महाराज आश्रम के अध्यक्ष विजय पाटील, पूर्व नगरसेवक राजन नाईक सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।


Share it
Top