व्यापारियों ने किया दिल्ली बंद; निकाली सीलिंग की शवयात्रा

व्यापारियों ने किया दिल्ली बंद; निकाली सीलिंग की शवयात्रा


नयी दिल्ली । राजधानी में जारी सीलिंग से आक्रोशित सात लाख से अधिक कारोबारियों ने आज अपनी दुकानें तथा व्यापारिक प्रतिष्ठानों को बंद रखा और जगह-जगह धरना प्रदर्शन किये। वहीं , दूसरी तरफ इस मुद्दे को लेकर भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के बीच जुबानी जंग छिड़ी हुई है।
सीलिंग के विरोध में दिल्ली के बाजारों में कहीं व्यापारी धरने पर बैठे हैं, कहीं सीलिंग की शवयात्रा निकाल रहे हैं तो कहीं मुंडन कर विरोध प्रदर्शित कर रहे हैं। अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ (कैट) का कहना है कि 'यह सीलिंग एकतरफा, अन्यायपूर्ण और अवैध है।' कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने बताया कि थोक के साथ-साथ खुदरा बाजार भी इस बंद में शामिल हैं और करोलबाग में आर्य समाज रोड पर व्यापारियों की महापंचायत का आयोजन किया गया है।
सीलिंग के विरोध में चांदनी चौक, सदर बाजार, चावड़ी बाजार, खारी बावली, कनॉट प्लेस, गांधी नगर, लक्ष्मी नगर, अशोक विहार, राजौरी गार्डन, लाजपत नगर, ग्रेटर कैलाश, साउथ एक्स, सरोजिनी नगर, कमला नगर, नया बाजार, भागीरथ प्लेस, लाजपतराय मार्केट, कश्मीरी गेट, प्रीत विहार, शाहदरा, कृष्णा नगर, जनकपुरी, तिलक नगर आदि बाजार प्रमुख रूप से बंद हैं।
सीलिंग के खिलाफ कैट के अलावा चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) ने भी बंद का आयोजन किया है।
सीटीआई ने अनोखे अंदाज में विरोध दर्ज करते हुए कई बाजारों में सीलिंग की शवयात्रा निकाली। सीटीआई ने बताया कि सबसे बड़ी शवयात्रा कश्मीरी गेट मार्केट से शुरू होकर निगम बोध घाट जाएगी और वहां सीलिंग का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Share it
Top