थोक महंगाई घटी

थोक महंगाई घटी

नयी दिल्ली। दाल, सब्जी, प्याज और आलू के दाम घटने से मौजूदा वर्ष के जून में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति की दर घटकर 0.90 प्रतिशत रह गयी। पिछले महीने मई में यह आँकड़ा 2.17 प्रतिशत रहा था।
सरकार के आज यहां जारी आँकड़ों में बताया गया है कि पिछले वर्ष के जून में थोक मुद्रास्फीति की दर 0.09 प्रतिशत की गिरावट में रही थी।
जून 2017 में दाल की थोक कीमतें 0.90 प्रतिशत, सब्जी की 21.16 प्रतिशत, प्याज की 9.47 प्रतिशत और आलू की 47.32 प्रतिशत घटी है।
आँकड़ों के अनुसार, प्राथमिक वस्तु समूह में 0.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। इस समूह के प्राथमिक वस्तु वर्ग में पिछले महीने की तुलना में सब्जी और फल छह प्रतिशत, समुद्री मछली दो प्रतिशत, अंडा, मुर्गा, मांस और दूध के दाम एक-एक प्रतिशत बढ़े हैं। हालांकि, पान पत्ता 46 प्रतिशत, फली चार प्रतिशत, उड़द, रागी, ज्वार, मूंग, मसूर, चना, अरहर, मसाले, चाय और बाजरा तीन-तीन प्रतिशत तथा राजमा दो प्रतिशत और मक्का तथा गेहूँ एक-एक प्रतिशत महँगे हुये हैं।
गैर खाद्य वस्तु वर्ग में बागवानी उत्पाद 17 प्रतिशत, कच्ची रबर पाँच प्रतिशत, सूरजमुखी चार प्रतिशत, अरंडी तीन प्रतिशत, मूँगफली, कपास, सोयाबीन और नारियल रेशा में दो-दो प्रतिशत और सरसों में एक प्रतिशत की गिरावट हुई है। इसी वर्ग में कच्चा कपास, तिल, कच्चा सिल्क और नारियल की कीमतों में एक-एक प्रतिशत की वृद्धि देखी गयी है।
खनिज वर्ग में जिंक की कीमतें 12 प्रतिशत, लौह अयस्क की नौ प्रतिशत और तांबे की दो प्रतिशत बढी है। इसी वर्ग में मैंगनीज 21 प्रतिशत सस्ता हुआ है।
आँकड़ों के अनुसार, ईंधन एवं बिजली वर्ग में 1.2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी है। इसी वर्ग में कोयला 0.8, पेट्रोलियम कोक तीन प्रतिशत और फर्नेस ऑयल एक प्रतिशत बढ़ा है जबकि खनिज तेल 2.3 प्रतिशत गिरा है। बिजली समूह में 0.7 फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी है।
निर्माण उत्पादों के वर्ग में 0.1 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है। इसी वर्ग के खाद्य उत्पादों के निर्माण समूह में 0.4 प्रतिशत की गिरावट रही है। इस समूह में मूंगफली तेल चार प्रतिशत, बासमती चावल तीन प्रतिशत, आटा दो प्रतिशत, मैदा,सोयाबीन तेल, घी और कॉफी पाउडर आदि एक प्रतिशत सस्ता हुआ है जबकि शहद सात प्रतिशत, इंस्टैंट कॉफी चार प्रतिशत, नूडल्स तीन प्रतिशत, गुड़,बेसन आदि दो प्रतिशत तथा कंडेस्ड मिल्क, बेकरी उत्पाद आदि एक-एक प्रतिशत महंगे हुए हैं। इसी वर्ग में तंबाकू उत्पाद एक प्रतिशत,चमड़ा एवं चमड़े से संबंधित उत्पाद 0.3 प्रतिशत और कपड़ा निर्माण 0.1 प्रतिशत महंगे हुए जबकि तैयार कपड़े 0.2 प्रतिशत तथा काष्ठ एवं काष्ठ उत्पाद 0.1 प्रतिशत सस्ते हुए।

Share it
Share it
Share it
Top