सेंसेक्स 239 अंक लुढ़का; निफ्टी 58 अंक फिसला

सेंसेक्स 239 अंक लुढ़का; निफ्टी 58 अंक फिसला

मुम्बई। अधिकतर विदेशी बाजारों में रही गिरावट के बीच कर्नाटक के चुनाव परिणाम से बढ़ी राजनीतिक गतिविधियों से आशंकित निवेशकों की बिकवाली से बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 238.76 अंक लुढ़ककर 35,149.12 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 58.40 अंक फिसलकर 10,682.70 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स की शुरूआत मजबूत रही लेकिन यह पूरे दिन लाल निशान में गोता लगाता रहा। सेंसेक्स बढ़त के साथ 35,483.62 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 35,510.01 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक गया लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में आये उछाल से चालू खाता घाटा बढऩे की आशंकायें तेज होने और अमेरिकी बांड यील्ड के वर्ष 2011 के उच्चतम स्तर पर पहुंचने से बिकवाली का दौर शुरू हो गया। निवेशकों के बिकवाल बनने से सेंसेक्स 35,087.82 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.67 प्रतिशत की गिरावट में 35,149.12 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की सात कंपनियां तेजी में और 22 गिरावट में रहीं जबकि एक कंपनी के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे।
निफ्टी की शुरूआत भी बढ़त में रही और यह 10,775.60 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 10,777.25 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर और 10,664.50 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.54 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,682.70 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 36 कंपनियां गिरावट में 13 तेजी में रहीं जबकि एक कंपनी के शेयरों में टिकाव रहा।
बीएसई में छोटी और मंझोली कंपनियों का प्रदर्शन सकरात्मक रहा। निवेशकों का रुझान छोटी और मंझोली कंपनियों में रहा जिससे बीएसई का मिडकैप 0.67 फीसदी यानी 108.14 अंक की तेजी में 16133.00 अंक पर और स्मॉलकैप 0.43 प्रतिशत यानी 75.88 अंक की तेजी में 17,611.89 अंक पर बंद हुआ।
बीएसई में कुल 2,754 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,392 में तेजी,1,232 में गिरावट और 130 कंपनियों के शेयरों में स्थिरता रही।
यूरोपीय बाजारों में ब्रिटेन के एफटीएसई में 0.16 प्रतिशत की तेजी और जर्मनी के डैक्स में 0.06 फीसदी की गिरावट रही। एशियाई बाजारो में चीन का शंघाई कंपोजिट 0.58 और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.27 फीसदी की तेजी में और हांगकांग का हैंगशैंग 0.21 और जापान का निक्की 0.21 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ।
बीएसई के 20 समूहों में 10 में तेजी और 10 में गिरावट रही। एफएमसीजी में सर्वाधिक 0.90 प्रतिशत की गिरावट रही। बेसिक मैटेरियल्स का सूचकांक 0.39, सीडीजीएस का 0.16, ऊर्जा का 0.37, एफएमसीजी का 0.90, वित्त का 0.27, आईटी का 0.10, बैंङ्क्षकग का 0.63, धातु का 0.59, बिजली का 0.14 और टेक का 0.11 प्रतिशत लुढ़का।
सीडी समूह के सूचकांक में 1.37,स्वास्थ्य में 0.05, इंडस्ट्रियल्स में 0.30, दूरसंचार में 0.40, यूटिलिटीज में 0.03, ऑटो में 0.04, पूंजीगत वस्तु में 0.24, तेल एवं गैस में 0.08, रिएल्टी में 0.41 और पीएसयू में 0.06 प्रतिशत की तेजी रही।
सेंसेक्स की 30 कंपनियों में पावर ग्रिड के शेयर अपरिवर्तित रहे। कोल इंडिया में 2.53, सन फार्मा में 1.75, टाटा मोटर्स में 1.53, विप्रो में 1.15, बजाज ऑटो में 0.94, ओएनजीसी 0.91, एचडीएफसी बैंक में 0.15, मारुति में 0.14 और भारतीय स्टेट बैंक 0.06 प्रतिशत की तेजी रही।
आईटीसी में 2.43, भारती एयरेल में 2.34, एचडीएफसी में 2.08, टाटा स्टील में 1.93, एक्सिस बैंक में 1.79, अदानी पोटर्स में 1.47, यस बैंक में 1.20, रिलायंस में 1.18, एनटीपीसी में 1.12, एशियन पेंट््स में 1.04, इंडसइंड बैंक में 1.01, कोटक बैंक में 0.99, एल एंड टी में 0.86, आईसीआईसीआई बैंक में 0.67, डॉ रेड्डीज में 0.66, हीरो मोटोकॉप्र्स में 0.63, इंफोसिस में 0.43, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 0.38, ङ्क्षहदुस्तान यूनीलीवर 0.31 और टीसीएस में 0.08 प्रतिशत की गिरावट रही।

Share it
Share it
Share it
Top