इंडिगो में 11 प्रतिशत हिस्सेदारी घटायेंगे प्रवर्तक

इंडिगो में 11 प्रतिशत हिस्सेदारी घटायेंगे प्रवर्तक

मुंबई। किफायती विमान सेवा कंपनी इंडिगो के प्रवर्तकों ने कंपनी में अपनी भागीदारी मौजूदा 86 प्रतिशत से घटाकर 75 प्रतिशत करने का फैसला किया है। कंपनी ने आज बीएसई को बताया कि उसके निदेशक मंडल की 31 जुलाई को होने वाली बैठक में इस बात पर विचार किया जायेगा कि हिस्सेदारी किस प्रकार घटायी जायेगी। इसके लिए सार्वजनिक ऑफर और/या संस्थागत नियोजन कार्यक्रम का रास्ता अपनाया जा सकता है। कंपनी इसके लिए नये शेयर जारी कर सकती है या मौजूदा शेयरों के लिए ऑफर फॉर सेल ला सकती है। उल्लेखनीय है कि इंडिगो सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया के अंतरराष्ट्रीय कारोबार को भी खरीदने का प्रस्ताव कर चुकी है और संभव है कि हिस्सेदारी घटाकर जुटाई गयी राशि का इस्तेमाल इस काम के लिए किया जाये। उसने बताया कि निदेशक मंडल की अनुशंसा के बाद यदि जरूरी हुआ तो इसके लिए कंपनी के शेयरधारकों से भी मंजूरी ली जायेगी। उल्लेखनीय है कि नियमों के मुताबिक किसी भी सूचीबद्ध कंपनी में कम से 25 प्रतिशत हिस्सेदारी सार्वजनिक निवेशकों की होनी चाहिये। गत 30 जून को इंडिगो में उसके प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 85.85 प्रतिशत तथा सार्वजनिक निवेशकों की 14.15 प्रतिशत थी।

Share it
Top