गिरावट से उबरा शेयर बाजार

गिरावट से उबरा शेयर बाजार

मुंबई। वैश्विक सकारात्मक रुख के बीच बड़ी तथा दिग्गज कंपनियों में हुई लिवाली से आज घरेलू शेयर बाजार गत दिवस की गिरावट से उबरता हुआ हरे निशान में बंद हुआ।
बीएसई का सेंसेक्स 0.41 प्रतिशत यानी 141.52 अंक की मजबूती के साथ 34,297.47 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.42 प्रतिशत यानी 44.60 अंक चढ़कर 19,545.50 अंक पर बंद हुआ।
पंजाब नेशनल बैंक में 11,400 करोड़ रुपये से ज्यादा के फर्जी लेनदेन की बात सामने आने के बाद लगातार दूसरे दिन बैंक ने बीएसई में सबसे ज्यादा नुकसान उठाया। उसके शेयर आज 11.97 प्रतिशत लुढ़ककर 128.35 रुपये पर आ गये। घोटाले की बात सामने आने से पहले 12 फरवरी को उसके शेयर 161.65 रुपये के भाव पर बंद हुये थे। इस प्रकार दो दिन में ये 33.30 रुपये टूट चुके हैं।
सेंसेक्स 51.62 अंक की तेजी में 34,207.57 अंक पर खुला। बड़ी एवं दिग्गज कंपनियों में निवेशक लिवाल रहे जबकि छोटी और मझौली कंपनियों के शेयरों में बिकवाली का जोर रहा। दोपहर बाद सेंसेक्स 34,535.08 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया। हालाँकि, बाद में इसकी तेजी में कुछ गिरावट आयी, लेकिन पूरे दिन यह हरे निशान में बना रहा। कारोबार की समाप्ति से पहले 34,186.01 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस के मुकाबले 141.52 अंक ऊपर 34,297.47 अंक पर बंद हुआ।
मझौली और छोटी कंपनियों पर बिकवाली का दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.46 प्रतिशत टूटकर 16,803.24 अंक पर और स्मॉलकैप 1.27 डॉलर लुढ़ककर 18,258.16 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 2,961 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,923 कंपनियों के शेयर गिरावट में और 908 के बढ़त में रहे। शेष 130 कंपनियों के शेयर अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये।
निफ्टी 37 अंक की तेजी के साथ 10,537.90 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका उच्चतम स्तर 10,618.10 अंक और निचला स्तर 10,511.05 अंक दर्ज किया गया। अंतत: यह गत दिवस के मुकाबले 44.60 अंक चढ़कर 10,545.50 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 30 में तेजी और 19 में गिरावट रही जबकि एक शेयर स्थिर बंद हुये।
विदेशी बाजारों में सकारात्मक रुख रहा। एशिया में जापान का निक्की 1.47 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 1.97 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.11 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.46 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेने का एफटीएसई 0.56 फीसदी और जर्मनी का डैक्स 0.99 फीसदी की तेजी में रहा।
बीएसई के 20 में से 12 समूह गिरावट में और शेष आठ बढ़त में रहे। सबसे ज्यादा 1.16 प्रतिशत की गिरावट दूरसंचार समूह में रही। पीएसयू, बेसिक मटिरियल्स, सीडीजीएंडएस, स्वास्थ्य, इंडस्ट्रियल्स, यूटिलिटीज, ऑटो, पूँजीगत वस्तुएँ, टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद, पावर एवं रियलिटी समूहों के सूचकांक भी लाल निशान में रहे। एनर्जी, एफएमसीजी, वित्त, आईटी, बैंकिंग, धातु, तेल एवं गैस तथा टेक समूहों के सूचकांकों में तेजी रही।
सेंसेक्स की 30 में से 17 कंपनियों के शेयरों में लिवाली और शेष 13 में बिकवाली का जोर रहा। आईसीआईसीआई बैंक में सर्वाधिक 3.15 फीसदी की तेजी रही। इंफोसिस के शेयर 1.47 प्रतिशत, पावर ग्रिड के 1.46, ओएनजीसी के 1.37, बजाज ऑटो के 0.96, एचडीएफसी के 0.89, भारतीय स्टेट बैंक के 0.74, हिंदुस्तान यूनिलिवर के 0.70, आईटीसी के 0.58, महिंद्रा एंड महिंद्रा के 0.55, टीसीएस के 0.53, डॉ. रेड्डीज लैब के 0.52, सनफार्मा के 0.49, रिलायंस इंडस्ट्रीज के 0.18, मारुति सुजुकी के 0.12, एनटीपीसी के 0.06 और एचडीएफसी बैंक के 0.03 प्रतिशत चढ़े। हीरो मोटोकॉर्प में सर्वाधिक 1.85 प्रतिशत की गिरावट रही। टाटा स्टील के शेयर 1.20 फीसदी, भारती एयरटेल के 1.15, एलएंडटी के 0.78, विप्रो के 0.49, कोटक महिंद्रा बैंक के 0.37, एशियन पेंट््स के 0.35, इंडसइंड बैंक के 0.29, टाटा मोटर्स के 0.19, एक्सिस बैंक के 0.17, अदानी पोट््र्स के 0.12, कोल इंडिया के 0.08 और यस बैंक के 0.08 प्रतिशत टूटकर बंद हुये।

Share it
Share it
Share it
Top