रुपये में तीन सप्ताह की सबसे बड़ी गिरावट

रुपये में तीन सप्ताह की सबसे बड़ी गिरावट

नयी दिल्ली। दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर और कच्चे तेल में तेजी तथा घरेलू शेयर बाजारों के लुढ़कने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया शुक्रवार को 30 पैसे लुढ़ककर दो सप्ताह से अधिक के निचले स्तर 69.80 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया। भारतीय मुद्रा लगातार दूसरे दिन टूटी हैं। गुरुवार को यह 15 पैसे की गिरावट में 69.50 रुपये प्रति डॉलर पर रही थी। रुपये पर आज आरंभ से ही दबाव रहा। यह पाँच पैसे फिसलकर 69.55 रुपये प्रति डॉलर पर खुला। शुरुआती कारोबार में ही इसने 69.52 रुपये प्रति डॉलर के दिवस के उच्चतम स्तर को छुआ। इसके बाद इसकी गिरावट और बढ़ गयी। कारोबार की समाप्ति से पहले 69.85 रुपये प्रति डॉलर के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़कने के बाद गत दिवस की तुलना में 30 पैसे नीचे 69.80 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। यह 23 मई के बाद की सबसे बड़ी गिरावट और 30 मई के बाद का रुपये का निचला स्तर है। ब्रिटेन का आइस क्रूड कच्चा तेल आज 0.06 डॉलर की मजबूती के साथ 61.37 डॉलर प्रति बैरल पर रहा। दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर का सूचकांक 0.10 प्रतिशत से ज्यादा चढ़ा। घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट रही और सेंसेक्स 289 अंक लुढ़ककर बंद हुआ। इन सभी कारकों ने रुपये पर दबाव बनाया।

Share it
Top