लजीज पकवानों, गजल-कव्वाली और हुनरमंदों का जलवा दिखेगा 'हुनर-हाट में

लजीज पकवानों, गजल-कव्वाली और हुनरमंदों का जलवा दिखेगा हुनर-हाट में

नई दिल्ली। लोकप्रिय शिल्पकला और लजीज व्यंजनों के लिए देश भर में आर्कषण का केंद्र बना 'हुनर हाट' राष्ट्रीय राजधानी में 10 से 18 फरवरी तक आयोजित होगा जिसका उद्घाटन केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह करेंगे। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज यहां बताया कि श्री सिंह 11 फरवरी को कनाट प्लेस के बाबा खड़क सिंह मार्ग में छठे हुनर हाट का औपचारिक उद्घाटन करेंगे जिसका मुख्य विषय है'सम्मान के साथ सशक्तिकरण'। इसमें देश भर के विभिन्न राज्यों के लजीज व्यंजनों के अलावा गजल -कव्वाली का संगीत कार्यक्रम और हुनरमंदों के सामानों एवं कलाकृतियों की प्रदर्शनी एवं बिक्री होगी। अल्पसंख्यक मंत्रालय की 'उस्ताद' योजना के तहत आयोजित इस हाट में देश भर के 22 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के सैंकड़ों दस्तकारों ,शिल्पकारों और हस्त शिल्पकारों के सामनों की प्रदर्शनी एवं बिक्री होगी। इसमें देश के प्रसिद्ध कलाकारों द्वारा गजल, कव्वाली और पारम्परिक संगीत कार्यक्रम भी पेश किये जायेंगे। इसके अलावा इसमें बंगाली फूड एवं मिठाइयां ,पूर्वोत्तर और झारखंड के व्यंजन, दिल्ली की चाट, गुजराती थाली,कश्मीरी वाजवान, राजस्थानी पकवान,राजकोट की मिठाई,तमिल व्यंजन मु$गलई पकवान, बिहार का लिट्टी -चोखा, और गोवन $फूड आदि लजीज व्यंजनों का स्वाद भी ले पाएंगे। श्री नकवी ने कहा कि इस'हुनर हाट'में हस्तनिर्मित परंपरागत वस्तुएं जैसे बाघ बंधेज,चूडिय़ाँ, काली मिट्टी के बर्तन लकड़ी की हस्तनिर्मित सामग्री ,कैंडल और फूल, बेंत और बांस ,सेरेमिक प्रोडक्ट,चंदेरी सिल्क, चिकन, कढाई, कालीन, गीजा एवं मटका सिल्क ग्लास वेयर, गोल्डन ग्रास प्रोडक्ट, हैंडलूम्स प्रोडक्ट्स इकत, मुरादाबादी एवं मद्रासी ब्रास एवं स्टील के सामान, जयपुरी, कलमकारी ,कांथा,कश्मीर की कला, लिनन ड्रेस मटैरियल,महेश्वरी प्रोडक्टस,मार्बल क्राफ्ट, मेटल वेयर,मूजा ग्रास, मिट्टी पर शीशे का काम, बनारसी सिल्क साड़ी,लकड़ी की कलमकारी, रोट आयरन प्रोडक्टस एवं जरी बैग आदि बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने कहा कि इसका मकसद अल्पसंख्यक समुदायों की पारंपरिक कला और शिल्पकारी की समृद्ध विरासत को मजबूत प्लेटफार्म और हुनर के उस्तादों को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय एक्सपोजर देना है। श्री नकवी ने कहा कि पिछले एक साल में हुनर हाट के जरिये 3 लाख से ज्याद लोगों को रोजगार के अवसर मुहैया कराये गये हैं। इन हाटों में जहाँ एक तरफ लाखों लोगों ने इन सामानों की खरीददारी की वहीं इन कारीगरों को देश-विदेश से बड़े आर्डर भी मिले हैं। इससे पहले दिल्ली में तीन तथा पुड्डुचेरी और मुंबई में एक-एक हुनर हाट लग चुका है।

Share it
Share it
Share it
Top