इस बार दो दिन मनाई जाएगी मकर संक्रांति

इस बार दो दिन मनाई जाएगी मकर संक्रांति


मकर संक्रांति 14 जनवरी को धूमधाम से मनाई जाएगी, लेकिन इस बार संक्रांति का पुण्यकाल दूसरे दिन 15 जनवरी को रहेगा। ऐसे में दान पुण्य व जरुरतमंदों को वस्तुएं व खाद्य सामग्री बांटने के कार्य दूसरे दिन ही किए जाएंगे। बांके बिहारी मंदिर के ज्योतिषाचार्य संतोष महाराज ने शुक्रवार को बताया कि मकर संक्रांति इस बार सिंह पर सवार होकर आ रही है। इसका वाहन सिंह व उपवाहन हाथी है। 14 जनवरी को सायंकाल 7 बजकर 28 मिनट पर सूर्य धनु राशि से मकर राशि पर प्रवेश करेगा। ऐसे में दूसरे दिन 15 जनवरी को इसका पुण्य काल माना जाएगा। इस दिन से ही देवताओं का दिन व दैत्यों की रात्रि मानी जाती है। भगवान सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण में आ जाते हैं।

इसके साथ ही मांगलिक कार्याें की शुरुआत हो जाती है। चंद्रमा के अनुसार कर्क, सिंह, तुला, धनु, कुंभ, मीन राशि वालों के लिए शुभ रहेगी। वहीं मेष, वृष, मिथुन, कन्या, वृश्चिक, मकर राशि वालों के लिए यह संक्रांति काल में तिल के व्यंजन, गायों को घास व गरीबों को ऊनी वस्त्र दान करे, इससे पुण्य की प्राप्ति के साथ-साथ संक्रांति का अशुभ फल समाप्त हो जाता है। इस दिन शहर के मंदिरों में श्रद्धालु पहुंचकर विशेष पूजा अर्चना करेंगे। संक्रांति का बार नाम ध्वांक्षी होने से स्वतंत्र कार्यकारक, आयात, निर्यात, उद्योग संचालक व व्यापारीगण के लिए यह संक्रांति लाभदायक है।


Share it
Top