Read latest updates about "धर्म -अध्यात्म" - Page 1

  • अहिंसा को अपना कर ही परम ज्ञान की उपलब्धि सम्भव

    अहिंसा व सबकी मंगल कामना के गांधीवादी सिद्धान्त को अपने जीवन का आधार बनाकर ही परम ज्ञान को उपलब्ध हुआ जा सकता है। हमारे चारों तरफ चर-अचर सम्पूण जगत मे परमात्मा की विराट शक्ति विराजमान है, और इसी शक्ति से सारी प्रकृति संचालित हो रही है। इस शक्ति को अनुभूति करने के लिए आपको अपनी संकीर्णता-सवार्थपरता,...

  • धर्मस्थल/पर्यटन: पावन तीर्थों का महत्त्व

    तीर्थ उन्हीं स्थानों को मानने की परंपरा रही है, जो किसी नदी के किनारे बड़े सरोवर, तालाब या झील के तट पर स्थित हों, जहां पहुंचकर व्यक्ति उसके पावन जल में स्नान कर अपना पापमोचन कर सके। पदमपुराण की एक उक्ति के अनुसार तस्मात् तीर्थेषु गन्तव्य: नर संसारभीरूमि:। पुण्योदकेषु सततं साधु विरोजेषु।। इसी...

  • इन योद्धाओं की वजह से महाभारत का युद्ध हो गया अजर-अमर

    महाभारत के युद्ध में कुछ योद्धा इतने शक्तिशाली थे कि उनकी बराबरी करना किसी भी युग में किसी मनुष्य के वश की बात नहीं है। अगर ये तीन योद्धा महाभारत के युद्ध में नहीं होते तो शायद महाभारत का युद्ध इतना बड़ा युद्ध न बनता और इसे सामान्य युद्ध की ही तरह याद किया जाता। आखिर महाभारत के वे शक्तिशाली योद्धा...

  • इस मंदिर के नीचे बहने वाली जलधारा को देखकर पता लग जाता है कि..

    जम्मू कश्मीर के गंदेरबल जिले में बने प्रसिद्ध राज्ञा देवी मंदिर में सोमवार को हजारों कश्मीरी पंडित श्रद्धालु एकत्रित हुए। वे यहां पारंपरिक श्रद्धा एवं हर्षोल्लास से मनाए जाने वाले खीर भवानी मेले में एकत्र हुए थे। इन श्रद्धालुओं ने धार्मिक मंत्रोच्चार के बीच मंदिर में घंटे बजाकर देवी के प्रति अपने...

  • जो व्यक्ति करता है इन लोगों से मुकाबला, उसे करना पड़ता है..

    शास्त्रों में बताया गया है कि व्यक्ति को कभी भी कुछ खास लोगों से मुकाबला नहीं करना चाहिए, अगर व्यक्ति इन लोगों से मुकाबला करता है तो उसे हार का तो सामना करना ही पड़ता है। इसी के साथ ही ऐसा व्यक्ति पाप का भी भागीदार बनता है। शास्त्रों में इन व्यक्तियों के बारे में बताया गया है, आखिर वे कौन हैं जिनसे...

  • एक इंजीनियरिंग स्टूडेंट छत पर..

    एक इंजीनियरिंग स्टूडेंट छत पर खड़ा था… तभी एक पड़ोसी : तो बेटा अब आगे क्या सोचा है? स्टूडेंट: बस अंकल, टंकी भरते ही, मोटर बंद कर दूंगा..

  • एक कटोरी पानी का ये टोटका आपको रातों रात कर सकता है मालामाल

    पानी के बिना जीवन की कल्पना करना भी संभव नहीं है, शरीर के लिए पानी जितना आवश्यक होता है उतना ही इसका वास्तुशास्त्र में महत्व होता है। वास्तुशास्त्र में पानी के कुछ उपाय बताए गए हैं, अगर व्यक्ति इन उपायों को करता है तो वह जीवन में कई प्रकार की परेशानियों से बच सकता है, वहीं पानी के कुछ उपाय धन...

  • बड़े काम के होते हैं नींबू के ये टोटके

    वास्तुशास्त्र में नींबू को बहुत महत्व दिया जाता है, नींबू से अनेक प्रकार के टोने-टोटके भी किए जाते हैं, माना जाता है कि नींबू घर में होने से घर में नकारात्मक शक्तियां प्रवेश नहीं कर पाती हैं और घर सकारात्मकता से भरा रहता है। नींबू कैसे घर के वास्तुदोष को दूर करता है और इसका प्रयोग कर कैसे नकारात्मक...

  • गंगा दशहरा पर इस बार बन रहा सर्वार्थ सिद्धि योग

    हरिद्वार। ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की दशमी को गंगा दशहरा मनाया जाता है। इस वर्ष गंगा दशहरा 12 जून को मनाया जाएगा। मान्यता है कि इसी दिन मां गंगा पृथ्वी पर आई थीं। इस दिन गंगा में स्नान का विशेष महत्व बताया गया है। पं. देवेन्द्र शुक्ल शास्त्री के मुताबिक ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की दशमी को...

  • धर्म संस्कृति: सीता हरण की योजना तथा क्रियान्वयन

    शूर्पणखा को जो आश्वासन दिया था रावण ने अब उसे पूरा करना था। सीता हरण के लिए वह सीधे समुद्र की ओर गया। अपने मामा मारीच से मिला। जब रावण ने सारी बात सुनाकर इस काम में मामा से सहायता मांगी तथा सुनहरे हिरण बनने को कहा तो वह भयभीत हो गया। उसने कहा - 'राम ने विश्वमित्र के साथ आकर अपने बाण से मुझे समुद्र...

  • अगर धन की चाह है तो करें रामायण की इस चौपाई का जाप

    रामायण में जीवन की सच्चाई छिपी हुई है, अगर जिस घर में नियमित रूप से रामायण का पाठ होता है उस घर में कभी भी किसी चीज की कोई कमी नहीं होती है। वहीं रामायण की कुछ चौपाईयां ऐसी हैं जिसका जाप करने से व्यक्ति को सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। अलग-अलग कार्यों के लिए अलग-अलग चौपाईयों का जाप करना होता है...

  • धर्मस्थल/पर्यटन: मनोकामनाएं पूरी करते हैं सालासर बाला जी

    भारतीय संस्कृति में मानव जीवन के लक्ष्य भौतिक सुख तथा आध्यात्मिक आनंद की प्राप्ति के लिए अनेक देवी देवताओं की पूजा का विधान है जिनमें पंचदेव प्रमुख हैं। पंच देवों का तेज पुंज श्री हनुमान जी हैं। प्राचीन ग्रन्थों में वर्णित सात करोड़ मन्त्रों में श्री हनुमान जी की पूजा का विशेष उल्लेख है। श्री राम...

Share it
Top