अनमोल वचन

अनमोल वचन

दिन-रात मिलाकर एक दिन में 24 घंटे होते हैं। सबको पता है कि इतना समय एक दिन में सभी को प्राप्त होता है, परन्तु इन 24 घंटों की समय सारिणी आप कैसे बनाते हैं, किस प्रकार से समय प्रबन्धन करते हैं, यह आप पर निर्भर करता है। कुछ लोग सारा दिन व्यस्त रहते हैं, कहते हैं कि आराम का समय नहीं मिलता, किन्तु परिणाम शून्य ही रहता है। ऐसे लोगों के लिये अंग्रेजी में एक वाक्य है ...अर्थात बिना किसी रचनात्मक कार्य के सारा दिन भागदौड करना। ऐसे लोग सोचते हैं कि काश उनके पास जादू की छडी होती, जो घुमाने के साथ ही सारे कार्य सम्पादित कर देती। हां जादू की छडी तो आपके पास हैं, किन्तु उसका प्रयोग कैसे करना है, जानना बहुत जरूरी है। यह जादू की छडी है समयबद्ध दिनचर्या की। व्यवसाय हो या घर, व्यक्तिगत हो अथवा सामाजिक सम्बन्ध, आपको समय के साथ तालमेल बैठाकर चलना है। समय प्रबन्धन के साथ-साथ प्रत्येक कार्य को किस प्रकार समय सीमा में पूरा करना चाहिए, यह जानना भी अनिवार्य है। जीवन में कार्य प्रबन्धन और समय प्रबन्धन सही रहेगा तो परिणाम से सन्तुष्टि भी अवश्य मिलेगी। [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top