विधायक रेप केस मामले में जिम पार्टनर ने आरोपों को नकारा

भोपाल। जर्नलिज्म की छात्रा के रेप के आरोपों से घिरे विधायक हेमंत कटारे मामले में एसआईटी ने जूना जिम में विधायक के पार्टनर इंद्रपाल करोधा के बयान दर्ज किए हैं।
बताया जा रहा है कि एसटीएफ ने इंद्रपाल से करीब दो घंटे तक लंबी पूछताछ की है। इंद्रपाल ने छात्रा के सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है। विधायक के पार्टनर ने पुलिस को बताया कि विक्रमजीत ने उसके जरिए हेमंत से सपर्क करने का प्रयास किया था। वह खुद को छात्रा का साथी बताते हुए मामले का सेटलमेंट कराने की बात कर रहा था। उसने पुलिस को यह भी बताया कि छात्रा के साथ जिम में कोई ज्यादती या बदतमीजी कभी नहीं की गई है। पूरे जिम में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं| पुलिस चाहे तो फुटेज देख सकती है। छात्रा के हाव भाव से यह साफ हो जाएगा कि उसके साथ किसी भी प्रकार की कोई ज्यादती नहीं की गई।
सूत्रों के मुताबिक एसआईटी ने अपनी जांच में कटारे को रेप का आरोपी मान लिया है। जल्द ही उसकी गिरफ्तारी नहीं होती है, तो कटारे पर इनाम घोषित किया जाएगा। मंगलवार को भी पुलिस ने विक्रमजीत और कटारे की तलाश में भोपाल, भिंड सहित दस ठिकानों पर दबिश दी है।
महिला थाने में छात्रा की शिकायत पर दो फरवरी को विधायक कटारे के खिलाफ रेप का केस दर्ज किया गया था। 3 फरवरी को इस मामले में पुलिस ने अदालत में अर्जी लगाकर छात्रा के बयान लेने और उसका मेडिकल परीक्षण कराने की अनुमति चाही थी। अनुमति मिलते ही महिला थाना प्रभारी शिखा बैस शाम को सेंट्रल जेल पहुंचीं और करीब 2 घंटे तक छात्रा के बयान दर्ज किए। इसके बाद छात्रा को कड़ी सुरक्षा के साथ जेपी अस्पताल लाया गया| यहांं मेडिकल परीक्षण में छात्रा के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हुई। उल्लेखनीय है कि अटेर से कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे की शिकायत पर 24 जनवरी की शाम को क्राइम ब्रांच ने छात्रा को अड़ीबाजी के आरोप में गिरफ्तार किया था। उसका साथी सरदार विक्रमजीत सिंह इस मामले में फरार हो गया था। कोर्ट ने छात्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था। उधर छात्रा द्वारा जेल से भेजी गई शिकायत पर कटारे के खिलाफ महिला थाने में दुष्कर्म का केस दर्ज किया गया। बाद में छात्रा की मां की शिकायत पर स्टेशन बजरिया पुलिस ने विधायक कटारे और उनके तीन साथियों के खिलाफ अपहरण और अड़ीबाजी की एफआईआर दर्ज की थी।

Share it
Top