देखभाल करने से परेशान होकर नाबालिग सगी बहनों ने कर दी डेढ़ वर्षीय छोटे भाई की हत्या

देखभाल करने से परेशान होकर नाबालिग सगी बहनों ने कर दी डेढ़ वर्षीय छोटे भाई की हत्या

हरिद्वार। ज्वालापुर थाना क्षेत्र से लापता हुए डेढ़ वर्षीय बच्चे पूरब के मामले में पुलिस ने पूरब की दो बहनों को हिरासत में लिया है। दोनों पर पूरब की हत्या करने का आरोप है। पुलिस ने बताया किकि दोनों ने पूरब को पहले नींद की दवाई खिलाई और इसके बाद उसे बैग में डालकर गंगा में फेंक दिया।

पुलिस ने बताया कि दोनों में से एक पूरब की चचेरी बहन है। लेकिन सब एक ही घर में रहते हैं। डेढ़ वर्षीय बालक पूरब की देखभाल करने की वजह से वो परेशान रहने लगी थी। पिछले चार माह से वे स्कूल भी नहीं गई थी। इसलिए उन्होंने बच्चे को नहर में फेंककर उसकी जान लेने की योजना बनाई।

बता दें कि बीते शुक्रवार को डेढ़ साल का मासूम लापता हो गया था। लोधामंडी निवासी सोनू अपने बेटे पूरब के साथ में सोया था। जब सुबह सोनू उठा तो बच्चा गायब था। बच्चे के गायब हो जाने के बाद परिजनों ने पूरब की काफी तलाश की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया था। परिजनों ने परिवार के ही कुछ सदस्यों पर बच्चे को चोरी करने का आरोप लगाया था। बच्चे की बरामदगी के लिए पुलिस ने क्षेत्र के सीसीटीवी कैमरों को खंगालना शुरू कर दिया था।

Share it
Top