सूरसागर में फिर हुआ बवाल: गाड़ी की बात को लेकर दो गुट आमने सामने, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

सूरसागर में फिर हुआ बवाल: गाड़ी की बात को लेकर दो गुट आमने सामने, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात



जोधपुर, 07 जून (हि.स.)। शहर के सूरसागर क्षेत्र में पिछले दो माह से लगातार सांप्रदायिक तनाव के हालात बनते जा रहे है। दो माह में शुक्रवार को चौथी बार क्षेत्र में बवाल हुआ। दो गुटों के लोग आमने सामने हो गए। बवाल की सूचना पर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचने के साथ ही भारी संख्या में पुलिस बल को लगाया गया है। दोपहर तक स्थिति नियंत्रण में लेकिन तनावपूर्ण बनी हुई थी। आज बवाल की वजह गाड़ी को लेकर बताया जाता है। इधर एहेतियात के तौर पर पुलिस बल लगाने से क्षेत्र पूरी तरह छावनी में तब्दील हो गया है।

उल्लेखनीय है कि रामनवमी के जुलूस की समाप्ति के बाद सूरसागर क्षेत्र में हुई तोडफ़ोड और आगजनी की घटना के बाद बिगड़े माहौल को हालांकि पुलिस प्रशासन और लोकसभा चुनाव के चलते नेताओं ने तो शांत समझ कर अपने हित साध लिये लेकिन इस क्षेत्र में रहने वाले दो समुदायों के लोगों में पनपा वैमनस्य अभी भी खत्म या कम नहीं हुआ है। रमजान के महिने और दो दिन ईद के दौरान तो पुलिस प्रशासन ने झगड़े की आंशका के चलते पुलिस छावना बनाकर यह त्योहार शांति से निकाल दिया लेकिन आज सुबह हुए एक छोटे से पंगे ने बड़ा रूप ले लिया और सूरसागर क्षेत्र के बाजार कुछ ही मिनटो में बंद हो गये और मौकैे पर हालात तनावपूर्ण हो गये।

शुक्रवार की सुबह व्यापारियों का मौहल्ला क्षेत्र में एक वाहन चालक की लापरवाही से एक बिजली के पोल को चपेट में लेने से और उस दौरान टूटे तार की चपेट में आयी महिला को इलाज के लिये पहुंचाने की बजाये वाहन चालक के मौके से भाग जाने के बाद माहौल भडक़ गया और कुछ ही देर में सूरसागर की शुरूआत से लेकर चौपड़ तक के बाजार बंद हो गए।

करीब दो महीने पूर्व हुई रामनवमी के दिन की तोडफ़ोड़ और आगजनी की घटना के बाद भी पुलिस ने सबक नहीं लिया और चुनाव तथा बाद में रमजान के चलते एक पक्ष के खिलाफ ही कार्रवाई की थी। जिसको लेकर पीडि़त पक्ष ने पुलिस के आला अधिकारियों को भी कई बार समझाईश के प्रयास किए, लेकिन अधिकारियों ने राजनेताओं के इशारे पर इस मामले को दबाने के ही प्रयास किये।

सूरसागर क्षेत्र में तनाव की सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारियों के हाथपैर फूल गए और तुरत फुरत में मौके पर शहर भर के अधिकारी अतिरिक्त जाब्ता लेकर मौके पर पहुंचे। अचानक हुई इस घटना के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया और लोगों ने बाजार बंद करके सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचना शुरू कर दिया। हालांकि सूचना मिलते ही पुलिस के अधिकारी अतिरिक्त जाब्ता लेकर मौके पर पहुंचे और सूरसागर क्षेत्र में नाकेबंदी करके बाहरी लोगों के आवागमन को कम किया।


Share it
Top