लालू ने जांच रुकवाने के बदले सरकार गिराने का दिया था वचन : सुशील

लालू ने जांच रुकवाने के बदले सरकार गिराने का दिया था वचन : सुशील


पटना । बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने चारा घोटाला मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की चल रही जांच में मदद के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली से गुहार लगाई और इसके बदले में जनता दल यूनाईटेड (जदयू) सरकार को गिरा देने का वचन दिया था।

भाजपा के वरिष्ठ नेता मोदी ने यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि झारखंड उच्च न्यायालय ने जब चारा घोटाला मामले में 04 नवंबर 2014 को राजद अध्यक्ष के पक्ष में फैसला दिया था कि इससे जुड़े अन्य मामले में ट्रायल की जरूरत नहीं है तो सीबीआई ने इस फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी थी। इसके बाद श्री यादव ने अपने विशेष दूत एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रेम गुप्ता को जेटली के पास भेजा था।

मोदी ने कहा कि यादव ने गुप्ता को भाजपा नेता श्री जेटली से मिलकर सीबीआई को चारा घोटाले के मामले में उच्चतम न्यायालय में अपील नहीं करने में मदद करने की गुहार लगाई। श्री गुप्ता ने जेटली से कहा था कि यदि इस मामले में मदद मिलती है तो 24 घंटे के अंदर बिहार में जदयू की सरकार गिरा दी जाएगी। राजद अध्यक्ष श्री यादव और श्री गुप्ता दोनों ने ही श्री जेटली से मुलाकात की थी। उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष के इस आग्रह पर श्री जेटली ने स्पष्ट कहा था कि वह ब्यूरो के कामकाज में किसी तरह का हस्तक्षेप नहीं कर सकते क्योंकि वह स्वायत्त संस्था है।

Share it
Top