सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई नाबालिग ने फांसी लगाकर दी जान

सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई नाबालिग ने फांसी लगाकर दी जान


भिवानी। हरियाणा के भिवानी जिले में दस दिन पहले सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई एक नाबालिग लड़की ने कल देर रात को घर में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।

पुलिस व पीड़िता के परिजनों के अनुसार 17 अगस्त को तीन युवकों नाबालिगा का अपहरण कर उसे गांव में ही अस्पताल के पीछे ले गए, जहां तीनों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। पीड़िता ने घर पहुंचकर परिजनों को घटना की जानकारी दी जिसके बाद परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने पीड़िता की चिकित्सकीय जांच भी करवाई, जिसमें बलात्कार की पुष्टि हुई थी।

पीड़िता ने खुदकुशी से पहले एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने एक अारोपी का नाम दिया है तथा पुलिस पर कार्रवाई न करने और शर्म से आत्महत्या करने की बात लिखी है।

परिजनों के अनुसार आज सुबह उन्होंने पीड़िता का शव फंदे से लटकता देखा। अस्पताल में परिजनों ने जमकर हंगामा किया और पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया। उनका आरोप है कि मामले की जांच कर रहे पुलिस उपायुक्त वीरेंद्र और महिला थाना प्रभारी नन्ही देवी ने लापरवाही बरती, जिस वजह से आरोपी फरार हैं। पुलिस उपायुक्त जगत सिंह मोर ने कहा कि मामले में जांच चल रही थी तथा एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था इसलिये ये कहना गलत है कि पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

Share it
Top