युवती व उपनिरीक्षक की हत्या करने वाले बदमाशों व पुलिस के बीच मुठभेड़, तीन गिरफ्तार

युवती व उपनिरीक्षक की हत्या करने वाले बदमाशों व पुलिस के बीच मुठभेड़, तीन गिरफ्तार



रोहतक । लघु सचिवालय के समीप युवती व थानेदार की हत्या करने वाले शूटरों व पुलिस के बीच गांव सिंहपुरा के पास मुठभेड़ हो गई। बदमाशों ने पुलिस पर कई राउंड गोलियां चलाईं। इस दौरान गोली लगने से एक बदमाश गंभीर रूप से घायल हो गया, जबकि पुलिस ने दो बदमाशों को काबू कर लिया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने तीनों बदमाशों पर एक-एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था और तीनों की तलाश के लिए पुलिस की टीम मेरठ में छापेमारी कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि बदमाश रोहतक के नजदीक ही छुपे हुए है। पुलिस ने आरोपियों के पास से भारी मात्रा में अवैध हथियार भी बरामद किये हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार अल्प सुबह पुलिस को सूचना मिली कि लघु सचिवालय के पास युवती ममता व थानेदार नरेंद्र की हत्या करने वाले मेरठ निवासी बदमाश प्रंशात उर्फ टोनी, प्रवीत उर्फ प्रिंस व गद्दी खेडी निवासी युवती का मौसरा भाई मोहित किसी अन्य वारदात को अंजाम देने की फिराक में है और वह रोहतक के गांव सिंहपुरा के नजदीक किसी से मिलने आ रहे हैं। सूचना के आधार पुलिस ने सिंहपुरा के नजदीक नाकेबंदी कर दी। इसी दौरान पुलिस ने एक गाड़ी को रुकने का ईशारा किया तो, गाड़ी में सवार युवकों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। अपराध जांच शाखा की टीम ने बदमाशों पर जवाबी फायरिंग की। पुलिस व बदमाशों के बीच कई राउंड फायरिंग हुई और इस दौरान एक गोली प्रवीत उर्फ प्रिंस के पैर पर लगी और वह वहीं गिर गया। इसके बाद पुलिस टीम ने मोहित व प्रशांत को भी काबू कर लिया। पुलिस ने घायल प्रिंस को पीजीआई के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया। पुलिस ने आरोपियों के पास से भारी मात्रा में अवैध हथियार बरामद किये हैं। गिरफ्तार किये गए आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि युवती के मौसेरे भाई ने ही मेरठ निवासी प्रवीत, प्रशांत को सुपारी देकर युवती की हत्या करवाई थी। प्रवीत व प्रशांत ने ही युवती व थानेदार को गोली मारी थी और इसके बदले उन्हें सात लाख रुपये दिये गए थे। हालांकि बदमाशों को पकडऩे के लिए पुलिस टीम मेरठ में छापेमारी कर रही थी, इसी दौरान पुलिस को बदमाशों की लोकेशन के बारे में जानकारी मिली। पुलिस उपाधीक्षक ने भी मौके का निरीक्षण किया। पुलिस ने तीन दिन पहले ही तीनों आरोपियों पर एक-एक लाख रुपये के ईनाम की घोषणा की थी।


Share it
Share it
Share it
Top