पुलिस का चूरू में डेरा, गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का एनकाऊंटर की सीबीआई जांच का सीन रिक्रएट 31 को

पुलिस का चूरू में डेरा, गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का एनकाऊंटर की सीबीआई जांच का सीन रिक्रएट 31 को



चूरू। जिले के मालासर गांव में एक वर्ष पूर्व हुए राजस्थान के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के एनकाऊंटर के मामले में सीबीआई टीम द्वारा जांच किए जाने को लेकर राजस्थान के पुलिस आला अधिकारी व सैकड़ों पुलिसकर्मियों की फौज पहुंच चुकी है।

जानकारी के अनुसार सीबीबाई गैंगस्टर आनंदपाल सिंह की मौत की जांच में जुटी हुई है। पुलिस द्वारा किए गए एनकाऊंटर की सीबीआई जांच के मामले में मंगलवार, 31 जुलाई को वही सीन रिक्रएट किया जाएगा। यह सीन दुबारा से इसलिए बनाया जा रहा है ताकि सीबीआई उस एनकाऊंटर की तह तक जा सके। जानकारी मिली है कि 31 जुलाई 2018 को चूरू के उसी मालासर गांव में यह दृश्य जीवंत होगा, जहां पर आनंदपाल सिंह का एनकाउन्टर किया गया था। विदित रहे कि पिछले वर्ष जून-2017 की 25 तारीख को आनंदपाल सिंह का एनकाउंटर किया गया था, जब अमावश की घोर काली रात थी।

शायद इसीलिए इस एनकाउंटर को फेक बताते हुए रावणा राजपूत और राजपूत समाज ने कई दिनों तक आंदोलन किया था। जानकारी के मुताबिक राजस्थान पुलिस, एसओजी की टीम और हरियाणा पुलिस मिलकर डमी आनंदपाल सिंह का एनकाउंटर करेगी। आनंदपाल सिंह के वास्तविक एनकाउंटर को रीक्रिएट करने के लिए यह सारा काम किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछले करीब 10 सालों से राजस्थान पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुके कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का बीते वर्ष चूरू के मालासर गांव में एनकाउंटर कर दिया गया था। आनंदपाल सिंह पर लूट, डकैती, फिरौती मांगने और कई हत्याओं के साथ ही दर्जनों अपहरण के मामले दर्ज थे, जिनको लेकर वह अजमेर जेल से कोर्ट ले जाते वक्त फरार हो गया था। राजस्थान पुलिस के लिए आनंदपाल सिंह एक बड़ी चुनौती बन गया था और इस मामले में राज्य सरकार लगातार आरोपों के घेरे में थी।


Share it
Share it
Share it
Top