अब 12वीं के बाद ही शुरू कीजिए सिविल सेवा के लिये तैयारी

अब 12वीं के बाद ही शुरू कीजिए सिविल सेवा के लिये तैयारी

चंडीगढ़। अब 12वीं के बाद ही सिविल सेवा के लिये तैयारी शुरू की जा सकती है। सिविल सेवा के लिये कोचिंग प्रदान करने वाले देश के अग्रणी संस्थान चाणक्य आईएएस अकादमी ने 12वीं पास करने वाले विद्यार्थियों के लिये स्नातक की पढ़ाई के साथ साथ सिविल सेवा के लिये तैयारी का भी तीन वर्षीय कार्यक्रम शुरू किया है।
अकादमी के संस्थापक और 'सक्सेस गुरू' के नाम से विख्यात ए.के. मिश्रा ने उनके संस्थान की रजत जयंती के अवसर पर यहां आयोजित एक निशुल्क संगोष्ठी में इस कार्यक्रम की घोषणा की। उन्होंने बताया कि अब 12वीं पास करने के बाद विद्यार्थी स्नातक की पढ़ाई के साथ उनकी देश के विभिन्न शहरों में स्थित अकादमियों में अंश कालिक आधार पर सिविल सेवा के लिये तैयारी कर सकते हैं। यह कार्यक्रम तीन वर्ष का है तथा इसका पहला बैच 20 जुलाई से शुरू होगा।
श्री मिश्रा के अनुसार अकादमी के अनूठे 'आर्ट ऑफ सक्सेस' मंत्र से विद्यार्थियों को सिविल सेवा परीक्षाओं के लिये तैयारी कराई जाती है जो क्लीनिकल साइकोलॉजी, न्यूरो लिग्विस्टिक प्रोग्रामिंग और शारीरिक अध्ययन का मिश्रण है। इसके माध्यम से प्रतियोगी के हर पक्ष को सशक्त बनाने का प्रयास किया जाता है। उन्होंने कहा कि मेहनत और लग्न से अगर कोई काम किया जाये तो ऐसा कोई भी लक्ष्य नहीं है जिसे हासिल नहीं किया जा सकता।
उन्होंने कहा कि श्री मिश्रा ने इस अवसर पर उनके ही संस्थान से कोचिंग लेने वाले तथा सिविल सेवा परीक्षा 2017 में अखिल भारतीय स्तर पर 7वां रैंक हासिल करने वाले आयुष सिन्हा, अभिलाश बर्नवाल(रैंक 44), मेघा अरोड़ा(रैंक 108) अगम सिंह बेदी(रैंक 332) तथा अन्यों को सम्मानित किया।
एक सवाल पर उन्हाेंने कहा कि सिविल सेवा परीक्षा 2017 में सफल रहे 990 प्रतियाेगियों में से 355 ने उनके संस्थानों से कोचिंग हासिल की है। उन्होंने बताया कि हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्र से उनके संस्थानों से क्रमश: 27,17, तीन और छह विद्यार्थी सफल रहे।

Share it
Share it
Share it
Top