आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण गुजरात में लागू

आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण गुजरात में लागू

गांधीनगर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि अनारक्षित आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण राज्य में सोमवार से मिलने लगेगा। यहां जारी सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार मकर संक्रांति पर सोमवार से राज्य में उच्च शैक्षणिक प्रवेश और सरकारी नौकरियों में अनारक्षित आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को 10 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलना शुरु हो जाएगा। सोमवार के बाद राज्य में पात्र शैक्षणिक प्रवेश और सरकारी नौकरियों की घोषणा हो चुकी हो परंतु भर्ती के किसी चरण की प्रक्रिया शुरु ना हुई हो, ऐसे में लाभार्थियों को यह लाभ हासिल होगा। ऐसी भर्ती और प्रवेश को फिलहाल रोककर उसमें भी 10 फीसदी आरक्षण का लाभ प्रदान किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि 14 जनवरी से पूर्व जिन भर्ती प्रक्रियाओं में लिखित, मौखिक परीक्षा और कम्प्युटर प्रोफिसियंसी टेस्ट प्रिलिमीनरी परीक्षा हो चुकी है, उस मामले में यह आरक्षण लागू नहीं हो सकेगा। भर्ती के लिए कोई भी प्रक्रिया शुरु नहीं हुई हो और मात्र घोषणा हुई हो, ऐसे मामलों में नयी घोषणा करने के बाद भर्ती प्रक्रिया हो सकेगी।
यह 10 फीसदी आरक्षण एससी, एसटी और एसईबीसी को मिलने वाले 49 फीसदी आरक्षण से अलग होगा। श्री रूपाणी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार द्वारा जो 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने का ऐतिहासिक निर्णय हुआ है, उसी अभूतपूर्व क्रांतिकारी निर्णय के बाद राज्य में यह निर्णय लिया गया है।

Share it
Top