मल्टीप्लेक्स थियेटरों में बाहर का खाना ले जाने की अनुमति

मल्टीप्लेक्स थियेटरों में बाहर का खाना ले जाने की अनुमति

नागपुर। महाराष्ट्र खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रवीन्द्र चव्हाण ने आज विधान परिषद में सदस्यों को आश्वस्त करते हुए कहा कि मल्टीप्लेक्सों में बाहर से खाना ले जाने पर प्रतिबंध नहीं है, मल्टीप्लेक्स के अधिकारी यदि बाहर का खाना ले जाने के लिए मना करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।
मल्टीप्लेक्स में खाद्य और पेय पदार्थों के मनमाना दाम वसूलने के संबंध में काफी बहस होने के बाद मंत्री ने इस संबंध में आज बयान दिया।
विधान परिषद में विपक्षी नेता धनंजय मुंडे ने प्रश्न उठाते हुए कहा कि मल्टीप्लेक्स के अंदर और बाहर खाद्य और पेय पदार्थों के दामों में काफी अंतर है।
हाल ही में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ताओं ने मुंबई, पुणे और ठाणे जिला के मल्टीप्लेक्स के अंदर दाम के संबंध में विरोध प्रदर्शन किया था। मकाई के लावा का पैकेज जो बाहर मात्र पांच रुपये में मिलता है उसी मकाई के लावा (पॉपकार्न) मल्टीप्लेक्स में 250 रुपये का मिलता है।
पिछले वर्ष बाम्बे उच्च न्यायालय ने सामाजिक कार्यकर्ता जैनेन्द्र बक्सी की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि अदालत ने कहा कि मल्टीप्लेक्स में कई ऐसी खाद्य वस्तुएं हैं जिनका दाम सिनेमा के टिकट से भी अधिक है। अदालत ने इसके बाद महाराष्ट्र सरकार को चार सप्ताह में हलफनामा दाखिल करने का आदेश दिया था।
उच्च न्यायालय ने पिछले माह कहा था कि महाराष्ट्र सरकार ने मल्टीप्लेक्स के अंदर वस्तुओं के दाम तय क्यों नहीं किये।
सिनेमा मालिकों और प्रदर्शक एसोसिएशन के अध्यक्ष नितिन दातार ने कहा कि उन्हें सरकार की ओर से अभी कोई आदेश नहीं मिला और आदेश पढऩे के बाद ही वह कोई टिप्पणी कर सकेंगे।
श्री दातार ने आज यहां कहा कि यदि सरकार कोई आदेश देगी तो उसका पालन होगा, अभी तक स्थिति साफ नहीं है। आज इस संबंध में सदन में मंत्री ने घोषणा की है लेकिन अभी तक कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।

Share it
Share it
Share it
Top