शिक्षकों के तबादलों में रिश्वत लेन-देन की जानकारी दें, पांच लाख का इनाम पाएं : सोनी

शिक्षकों के तबादलों में रिश्वत लेन-देन की जानकारी दें, पांच लाख का इनाम पाएं : सोनी

चंडीगढ़। पंजाब के शिक्षा मंत्री ओम प्रकाश सोनी ने आज कहा कि शिक्षकों के तबादलों में रिश्वतखोरी को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और घोषणा की कि जो भी व्यक्ति अध्यापकों के तबादलों में में रिश्वत लेने या देने संबंधी पक्के सबूतों के जानकारी देगा, उसे पाँच लाख रुपए का इनाम दिया जायेगा।
यहां जारी पंजाब सरकार की विज्ञप्ति के अनुसार श्री सोनी ने दावा किया कि तबादलों का कार्य पारदर्शी तरीकों से किया जा रहा है और इसमें किसी भी तरह का राजनीतिक दबाव या पैसों का दख़ल नहीं होने दिया जा रहा।
श्री सोनी ने शिक्षा विभाग और पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करने के बाद कहा कि बोर्ड में हर वर्ष काफी संख्या में पुस्तकें बिना बांटे रह जाती हैं, जिनको बाद में रद्दी में डालना पड़ता है। उन्होंने कहा कि पुस्तकों का प्रकाशन और वितरण सत्र शुरू होने से पहले सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने गाइडों के बढ़ते रुझान को रोकने के लिए सभी पुस्तकों विशेषज्ञों की सलाह के साथ बोर्ड द्वारा ही छपवाने के लिए कहा। उन्होंने साथ ही कहा कि पुस्तकों की गुणवत्ता को कायम रखा जाये और इसके लिए कागज भी बढ़िया गुणवत्ता का प्रयोग किया जाये।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि बोर्ड की पुस्तकें सही समय पर न छपने के कारण निजी प्रकाशक फायदा उठा लेते हैं। इस रुझान को रोकने की जरूरत है और यह सही समय पर प्रकाशन और वितरण से ही किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पुस्तकों के वितरण के लिए स्कूल प्रिंसिपल की जिम्मेदारी तय की जाये। उन्होंने घरों में खुले स्कूलों को स्थानीय निकाय विभाग की मदद से बंद करवाने के भी आदेश दिए।

Share it
Share it
Share it
Top