न डोली, न कार, बुलेट चलाकर मंडप में पहुंची ये दुल्हन

महाराष्ट्र के पुणे में औध तहसील में केडगांव है। इस गांव उस वक्त लोगों के भीड़ लग गई जब शादी के जोड़े में एक नई नवेली दुल्हन बुलट चलाती हुई निकली। उसके पीछे फूलों से सजी एक कार थी, जिसमें दूल्हा और उसके परिजन सवार थे। अधिकतर भारतीय दुल्हनें पहले पालकी में आया करती थीं। समय बदलने के साथ पालकी की जगह लग्जरी कार ने ले ली। लेकिन

औंध तहसील के केडगांव के रहने वाले किसान की बेटी का सपना था कि वह अपनी शादी में बुलेट चलाकर मंडप तक पहुंचे। पिता ने अपनी बेटी का सपना पूरा करने के लिए उसके लिए बुलेट का इंतजाम किया। दुल्हन मंडप तक बुलेट चलाकर पहुंची।

[रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध ,ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप ]


दुल्‍हन कई किलोमीटर तक खुद बुलेट चलाकर मंडप तक पहुंची। पीछे—पीछे फूलों से सजी गाड़ी चलती रही, जिसमें दूल्‍हा और उसके परिजन सवार थे। जिस रास्ते से भी दुल्‍हन गुजर रही थी, वहां पर लोगों के कदम रुक जा रहे थे। गांववालों का कहना था कि बेटियों को आगे बढ़ाने की यह पहल अच्‍छी थी।

Share it
Top