होंठ हों गुलाब की पंखुडिय़ों जैसे..एेसे रखें ध्यान

होंठ हों गुलाब की पंखुडिय़ों जैसे..एेसे रखें ध्यान

सुंदरता का पैमाना कुछ निश्चित नहीं है। सुंदरता की परिभाषा विशाल है। उसमें गोरा रंग, नैन नक्श, आंखें, त्वचा, होंठ, कद, बाल, शरीर की बनावट, गर्दन, बाजू, हाथ और पैर सभी आते हैं। सभी कुछ ठीक हो, तभी महिला को सुंदर कहा जाता है। कुछ चीजें तो भगवान द्वारा प्रदत हैं। कुछ पर हम विशेष रूप से ध्यान दे कर उन्हें निखार सकते हैं।
सुंदरता में होंठों का भी अहम योगदान है। कुछ लोगों के होंठ प्राकृतिक लालिमा लिए होते हैं, कुछ के सफेद और सांवले। अगर हम अपने होंठों पर ध्यान दें तो हमारे होंठ भी खूबसूरत गुलाब की पंखुडिय़ों की तरह खिले खिले रह सकते हैं।
ध्यान दें कुछ मुख्य टिप्स पर:-
– होंठों पर हल्की उंगलियों से घी की हल्की मालिश करने से होंठ चमकदार बने रहते हैं।
– होंठों की नमी बनाकर रखें। पानी पीते रहें। जब भी होंठ खुश्क लगें, पानी पीकर उन्हें नम कर लें।
– अगर होंठों पर डार्क लिपस्टिक लगाने से कालापन आ गया हो तो सुबह शाम नींबू का छिलका रगड़ें। धीरे-धीरे कालापन कम हो जाएगा।
– होंठों की चमक बरकरार रखने के लिए सुबह शाम कच्चे दूध की फेन लगाएं।
बच्चा गोद लेने से हिचकें नहीं..!

– होंठों की रंगत गुलाबी बनी रहे, इसके लिए ताजे गुलाब की पत्तियों को पीसकर शहद के साथ मिला लें और होंठों पर लगाएं।
– लिपस्टिक बढिय़ा कंपनी की लगाएं। रात्रि में सोने से पहले होंठों से लिपस्टिक साफ कर सोयें।
– होंठों का आकार कैसा भी हो, यदि लिपस्टिक सलीके से लगाई जाए तो होंठों की कमियों को दूर कर उन्हें आकर्षक बनाया जा सकता है।
– नरम होंठों के लिए प्रात: पत्तों पर गिरी ओस को होंठों पर लगाएं।
– सर्दियों में अक्सर होंठ फटने की शिकायत रहती है। सर्दियों में होंठों पर मलाई से हल्की मालिश करें, नहाते समय नाभि पर तेल लगाएं। होंठ खुश्क नहीं होंगे।
आओ जाने पक्षियों के बारे में..!

– होंठों की कोमलता और नर्मी बरकरार रखने के लिए टमाटर का रस, नींबू का रस, ग्लिसरीन बराबर मात्रा में मिलाकर लगाएं। सोते समय इसे होंठों पर लगाएं।
– होंठों पर बार बार जीभ मत घुमाएं। होंठ मोटे हो जाते हैं।
– होंठों को दांतों से भी न चबाएं। होंठों का आकार बिगड़ जाता है।
– बीच बीच में होंठों पर लिपस्टिक न लगा कर लिप ग्लॉस या लिप बाम का ही प्रयोग करें ताकि नेचरल चमक बनी रहे।
– सारिका

Share it
Top