हम किसी भी तरह के दबाव में नहीं हैं : विराट

हम किसी भी तरह के दबाव में नहीं हैं : विराट

लंदन। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी चैंपियंस ट्राफी में पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले महाफाइनल के दबाव को खारिज करते हुए शनिवार को कहा कि वे किसी तरह के दबाव में नहीं खेलेंगे और फाइनल को भी अन्य मुकाबलों जैसा ही लेंगे।

विराट ने फाइनल की पूर्वसंध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कहा,Þ हम शांत और दबाव मुक्त क्रिकेट खेलेंगे। पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबलों में पिछला रिकॉर्ड ज्यादा मायने नहीं रखता है। हमारे लिए फाइनल भी अन्य मैचों जैसा ही है।
कप्तान ने कहा, हम फाइनल को लेकर ज्यादा नहीं सोच रहे हैं। टीम और ड्रेङ्क्षसग रूम का माहौल सहज रखने की जरूरत है क्योंकि जितना ज्यादा आप फाइनल के बारे में सोचेंगे , उतना ही आपके प्रदर्शन पर असर पड़ेगा और आपका ध्यान भटकेगा। विराट ने कहा, पहले मैच के परिणाम और पिछले रिकार्ड का कोई महत्व नहीं है। कुछ टीमें अच्छी शुरुआत करती हैं और फिर भटक जाती हैं जबकि कुछ टीमें खराब शुरुआत के बाद भी आगे बढ़ती चली जाती हैं। पाकिस्तान निश्चित रूप से एक प्रतिभाशाली टीम है जो अपने दिन किसी भी टीम को हरा सकती है लेकिन न तो हम डरे हुए हैं और न ही हम अति आत्मविश्वास में हैं। दोनों टीमें जीतने के लिये अपना शत प्रतिशत देंगी जिससे मुकाबला काफी मजबूत होगा।
विराट ने कहा, किसी भी तरह के मुकाबले में आपको खुद में विश्वास रखने की जरूरत है। यदि आपके तीन विकेट जल्दी गिर जायें और आप सोचें कि चौथा भी गिर जाये तो ऐसा ही होगा लेकिन मैं इस बात पर विश्वास रखता हूं कि मैं टीम को संकट से बाहर निकाल लूंगा तो मैं 10 में से आठ बार ऐसा कर चुका हूं क्योंंकि मुझे भरोसा है कि मैं ऐसा कर सकता हूं।
उन्होंने कहा, मैं हमेशा दूर की सोचता हूं और मुश्किल परिस्थितियों में खुद को रखकर टीम को उससे बाहर निकालने की कोशिश करता हूं। कल का मैच हमारे लिए दूसरे मैचों की तरह होगा, परिणाम कुछ भी हो हमें मैदान पर जाकर अपना खेल खेलना है। ऐसी स्थिति में आप जितना शांत रहेंगे आपको उतने ही बेहतर निर्णय लेने में मदद मिलेगी। भारतीय कप्तान ने कहा,Þ हम हर मैच को जीतने की उम्मीद के साथ उतरते हैं लेकिन मैच के दौरान प्रदर्शन की कोई गांरटी नहीं दे सकता। पिछले रिकार्ड का कोई मायने नहीं होता है और हम पिछला रिकार्ड देखकर नहीं खेलते हैं। हम एक पूरी टीम के रूप में खेलना चाहेंगे। जो टीम उस दिन अच्छा प्रदर्शन करेगी, सकारात्मक सोच के साथ खेलेगी वही जीतेगी। फाइनल के लिये किसी तरह के बदलाव पर विराट ने कहा,किसी विशेष स्थिति के लिए हम टीम में कोई बड़ा बदलाव नहीं करेंगे। मुझे यकीन है कि सभी खिलाड़ी एक जुट होकर टीम के लिए खेलेंगे और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे।
शामली में 50 हजार का ईनामी विपुल खूनी गिरफ्तार…मुठभेड़ में एसएसपी को भी गोली लगी..बैंक लूट में था शामिल..!
पाकिस्तान के गेंदबाजी आक्रमण के लिये विराट ने कहा, मैं इस बात पर यकीन नहीं रखता कि किसी खिलाड़ी के वीडियो देखे जायें और कोई रणनीति बनाई जाये। मैं मैदान पर वही करता हूं जो सामने दिखाई देता है। आप प्रदर्शन की कोई गारंटी नहीं दे सकते। गेंद जब गेंदबाज के हाथ से छूटती है तो उसी के हिसाब से आपको खेलना होता है। भारतीय कप्तान ने एक बार फिर आलराउंडर हार्दिक पांड्या की तारफ करते हुए कहा, हम कोई बड़ा परिवर्तन नहीं करने जा रहे हैं। पांड्या टीम में गेंद और बल्ले से एक संतुलन लाते हैं। वह अपनी आलराउंड क्षमता से क्रिकेट का एक संपूर्ण पैकेज हैं और हमें उनका समर्थन करना चाहिये। यदि वह सात ओवर भी अच्छे डाल गये तो एक कप्तान के रूप में मेरे लिये यह एक राहत की बात होगी। विराट ने रविवार को भारत और पाकिस्तान के बीच लंदन में ही खेले जाने वाले वल्र्ड हॉकी लीग के मुकाबले के लिये भारतीय टीम को अपनी शुभकामनाएं भी दीं। उन्होंने कहा, मैं ङ्क्षसथेटिक बाल से इंडोर में खेला हूं लेकिन मैंने कभी हॉकी नहीं खेली। पेनल्टी कार्नर कैसे रोका जाता है ,देखने में भयावह लगता है। यह सब कतई आसान नहीं है। मैं भारतीय टीम को कल के मैच के लिये शुभकामनाएं देता हूं।

Share it
Top