स्वाद और सेहत से भरपूर लीची

स्वाद और सेहत से भरपूर लीची

litchiगर्मी के मौसम में लीची फलों की रानी कहलाती है जैसे फलों का राजा आम होता है। रस और स्वाद से भरी लीची का नाम लेते ही मुंह में लीची का रस आने लगता है। लीची हर आय वर्ग का पसंदीदा फल है क्योंकि इसका स्वाद जो निराला होता है।
ऊर्जा प्रदान करती है लीची:-
गर्मियों में थकान महसूस होने पर 8 से 10 दाने लीची के खाने से शरीर को ऊर्जा की प्राप्ति होती है।
रक्त की कमी को भी लीची दूर करने में मदद करती है। अगर थकान लगातार बनी रहे तो मौसम मे जब तक लीची उपलब्ध है, सुबह-शाम दो बार 100 ग्राम लीची का सेवन करें।
रेशे से भरपूर होती है लीची:-
फाइबर की मात्रा अधिक होने के कारण मोटापा कम करने में भी मदद करती है लीची। लीची हमारे भोजन को पचाने में भी मदद करती है। शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाती है।
पेट के लिए भी लाभप्रद है लीची:-
लीची का सेवन पेट में हानिकारक टॉक्सिन के प्रभाव को कम करता है। पेट के अल्सर रोगियों के लिए भी लीची लाभप्रद है। गैस की समस्या को भी दूर करती है। शरीर में अम्लता को कम करके पाचन दोषों को दूर करती है।
मदद करती है पाचन प्रक्रि या को दुरूस्त रखने में:-
इसमें विटामिन बी, बीटा कैरोटिन का मात्रा काफी होती है जिससे लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण होता है जो पाचन प्रक्रि या को दुरूस्त रखता है। लीची में फोलेट की मात्रा हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को नियंत्रण में रखने में मदद करती है। पाचन तंत्र के साथ तंत्रिका तंत्र भी दुरूस्त रहता है।
पानी की कमी को भी दूर करती है:-
लीची का सेवन हमारे शरीर में हुई डीहाइड्रेशन की समस्या को दूर करने में मदद करती है। गर्मी में जब बहुत प्यास लग रही हो और पानी पास में न हो तो बाजार से लीची खरीद कर 8-10 दाने खाने से राहत मिलती है। गर्मियों में शरीर को ठंडक मिलती है।
ध्यान रखें:-
लीची का सेवन सीमित मात्रा में करना ही लाभप्रद है। लीची के अधिक सेवन से सिरदर्द की शिकायत हो सकती है। नाक से नकसीर आने की समस्या के साथ शरीर में खुजली, सांस लेने में कठिनाई जैसी समस्या भी हो सकती है।
सुनीता गाबा

Share it
Share it
Share it
Top