काश कि तुम मौत होती !

काश कि तुम मौत होती !

 वाट्सएप-
मेरे एक ‘ फेसबुक फ्रेंड’ ने पोस्ट किया कि-
‘काश कि तुम मौत होती, एक दिन ही सही मेरी तो होती ’
तो मैंने भी कमेंट कर दिया कि भाई – ‘अगर वो मौत होती तो एक दिन सबकी होती’
भाई ने तुरन्त ही उनफ़्रेंड कर दिया
बताइये अब तो लॉजिक भी देना गलत हो गया !!
ट्विटर-

पति: ‘आलू के परांठो में आलू तो नजर नहीं आ रहे हैं’
पत्नी: ‘चुपचाप खा लो!! कश्मीरी पुलाव में क्या कश्मीर नजर आता है???’

Share it
Share it
Share it
Top