सोना 400 रुपये फिसला,चाँदी भी 1,000 रुपये लुढ़की

सोना 400 रुपये फिसला,चाँदी भी 1,000 रुपये लुढ़की

नयी दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में बढत के बावजूद घरेलू स्तर पर पितृ पक्ष के कारण मांग सुस्त रहने से दिल्ली सर्राफा बाजार में गत सप्ताह सोना 400 रुपये की गिरावट लेकर 20 सितंबर के बाद के न्यूनतम स्तर 31,200 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया।
औद्योगिक मांग घटने से चाँदी भी 1,000 रुपये टूटकर सप्ताहांत पर 45,500 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गई।
जर्मनी के ड्यूश बैंक काे लेकर जारी चिंता के कारण शुक्रवार काे उसके शेयरों में तेज गिरावट दर्ज की गयी जिससे निवेशकों ने चौतरफा बिकवाली शुरू कर दी और उनका भरोसा सोने में बढा । बाद में अमेरिका के कानून मंत्रालय द्वारा कम जुर्माना लगाये जाने की खबर से ड्यूश बैंक की हालत में सुधार हुआ और निवेशकों का ध्यान अमेरिका के स्टॉक मार्केट की ओर गया जिससे पीली धातु की तरफ उनका आकर्षण कम हो गया। सप्ताहांत पर लंदन एवं न्यूयॉर्क से प्राप्त जानकारी के अनुसार सोना हाजिर 0.25 डॉलर की मामूली तेजी के बाद 1,311.75 डॉलर प्रति औंस पर पहुँच गया। 
अमेरिकी सोना का दिसंबर वायदा 7.2 डॉलर गिरकर 1318.8 डॉलर प्रति औंस पर आ गया। आलोच्य सप्ताह के दौरान लंदन में चाँदी हाजिर मामूली एक सेंट चमककर 19.15 डॉलर प्रति औंस पर पहुँच गयी।
योगेन्द्र यादव , प्रशांत भूषण ने स्वराज इंडिया’ नाम की नयी राजनीतिक पार्टी बनाई

आम्रपाली आद्या ट्रेडिंग एंड इन्वेस्टमेंट्स के निदेशक एवं शोध प्रमुख अबनिश कुमार सुधांशु ने कहा कि आमतौर पर पितृपक्ष में उत्तर भारत में लोग खरीददारी से बचते हैं और इसका असर सर्राफा बाजार भी हुआ है लेकिन अब नवरात्र शुरू हो गया है इसलिए अगले सप्ताह में इसमें तेजी आने की संभावना है।दिवाली से पूर्व कीमती धातुओं की मांग अक्सर बढती है और इस वर्ष की ऐसा ही होने का अनुमान है।
वैश्विक स्तर पर यदि कोई बड़ा उठा पटक नहीं हुआ हुआ तो घरेलू स्तर पर सोना 31500 रुपये तक जा सकता है।
royal-4

Share it
Top