सुशील ने बढ़ाया पहलवानों का हौसला

सुशील ने बढ़ाया पहलवानों का हौसला

नई दिल्ली। गुरू मुन्नी की 41वीं पुण्यतिथि पर हो रहे 13वें गुरू मुन्नी गोल्ड कप दंगल के तीसरे दिन के मुकाबलों में पहलवानों ने बेहतरीन दांव पेच दिखाकर सुर्खियां बटोरी। उनका हौसला उस समय सातवें आसमान को छू गया जब दो बार के ओलंपिक पदक विजेता और विश्व चैंपियन पहलवान सुशील कुमार उनका उत्साह बढ़ाने आए। सुशील ने पहलवानों को गुरू मंत्र दिया कि मेहनत करने से ही सफलता की बुलंदियों को छुआ जा सकता है। गुरू मुन्नी व्यायामशाला के गुरू प्रभुदयाल शर्मा और दंगल सचिव भाई महावीर ने सुशील को भारतीय कुश्ती का प्रतीक एक गुर्ज देकर सम्मानित किया। आज हुए कुछ रोचक जोड़ों में नेशनल स्कूल गेम्स के छत्रसाल स्टेडियम के आशीष ने 55 किलोग्राम वजन में जयवीर अखाड़े के शुभम को आसानी से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। इसी वजन के एक अन्य मुकाबले में सोनीपत के मोनू ने लाल अखाड़े के रवि को, वीरेंद्र अखाड़े के अमित ने गुरू मुन्नी के करण को और प्रताप स्कूल के परविंदर ने गुरू मुन्नी के भूपेंद्र को हराकर सेमीफाइनल में चुनौती रखी।
बिजनौर में पीएम मोदी ने कहा , अखिलेश जी कान खोलकर सुन लो, 11 मार्च को खुलेगा आपका कच्चा चिट्ठा..!
60 किलोग्राम वजन में जूनियर नेशनल चैंपियन गुरू हनुमान के प्रवीण ने अपने ही अखाड़े के संदीप को, जूनियर नेशनल चैंपियन छत्रसाल के रवि ने अपने ही अखाड़े के साहिल को हराकर अंतिम चार में प्रवेश पाया। 85 किलोग्राम वजन में गुरू मुन्नी अखाड़े के सुमित ने बेरी अखाड़े के धर्मा को और गुरू मुन्नी अखाड़े के धीरू डागर ने सोनीपत के राकेश को तारे दिखाकर सेमीफाइनल में प्रवेश पाकर अपने अखाड़े का परचम फहराया। गुरू मुन्नी अखाड़े के कोच जसवीर को खलीफा की पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया गया।

Share it
Top