सुरक्षा कवच की मजबूती के लिए पिएं गेहूं के ज्वारे का जूस

सुरक्षा कवच की मजबूती के लिए पिएं गेहूं के ज्वारे का जूस

प्रकृति ने हमें स्वस्थ रहने के लिए इतना कुछ दिया है उनमें गेहूं के ज्वारे प्रकृति की अनुपम देन है। ज्वारे का जूस थायराइड में बहुत लाभप्रद है। तेजी से बढऩे वाले थायराइड पर ज्वारे का जूस प्राकृतिक औषधि का काम करता है। इसमें मौजूद क्लोरोफिल, एमिनो एसिड, मिनरल्स और विटामिन्स हमें कई खतरनाक बीमारियों से बचा कर रखते हैं।
विशेषज्ञ भी इसकी महत्ता को मानते हैं। टयूमर ओर कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों से लडऩे में मदद करता है इसका जूस और घास। इसके जूस को अन्य जूस में मिलाकर भी पिया जा सकता है और अकेले ज्वारे का जूस भी पिया जा सकता हे। आइए जानें इसके लाभ:-
प्राकृतिक ऊर्जा का न्नेत:-
स्वस्थ लोग भी इस जूस का सेवन शरीर की एनर्जी बढ़ाने के लिए कर सकते हैं। हृदय रोगी और रेडिएशन लेने वाले रोगियों को सुरक्षा प्रदान करता है। हैल्दी रहने के लिए इस जूस का सेवन लाभप्रद है।
सब्जियां और पोषक तत्व

खूबसूरती बढ़ाने में सहायक है ज्वारे का जूस:-
बाल झड़ते हों या सिर की त्वचा में खुजली जैसी समस्या हो, इसके लिए नियमित ज्वारे के जूस का सेवन करें। इन समस्याओं से दूर रहने में मदद मिलेगी। हमारी बढ़ती उम्र की प्रक्रिया को कम करता है और बालों का प्राकृतिक रंग बनाए रखने में भी मदद करता है। सनबर्न जैसी परेशानी होने पर नियमित जूस का सेवन करने से कुछ दिनों में असर महसूस होता हे। त्वचा की चमक को बरकरार रखने में मदद करता है।
रक्त की शुद्धि में सहायक:-
ज्वारे का जूस खून को शुद्ध रखता है क्योंकि यह एक बेहतरीन डिटॉक्सिफायर है। ज्वारे के जूस में उपलब्ध एंजाइम और एमिनो एसिड कैंसर से सुरक्षा प्रदान करते हैं। इनमें पाए जाने वाले एंजाइम्स ओर एमिनो एसिड दूसरे खा़द्य पदार्थों में इतने नहीं मिलते। इनके एंजाइम्स शरीर को हील अप करने में मदद करते हैं और टयूमर से लडऩे में भी मदद करते हैं।
सौंफ, इलायची, पान लाभप्रद हैं खाने के बाद…!

आक्सीजन की भरपूर मात्रा:-

इसके जूस में आक्सीजन की भरपूर मात्रा होती है जो हमारे शरीर और दिमाग दोनों के लिए लाभप्रद है। शरीर में उपलब्ध आक्सीजन का 25 प्रतिशत भाग दिमाग इस्तेमाल करता है।
बढ़ाता है लाल रक्त कणिकाओं को:-

इसके नियमित सेवन से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है और रक्त कोशिकाओं की भी बढ़ोत्तरी होती है। हमारी चयापचय क्रिया भी ठीक रहती है, खून साफ रहने के साथ थायराइड ग्लैंड और मोटापे जैसी समस्याएं कंट्रोल में रहती हैं। सबसे बड़ी बात शरीर की अंदरूनी समस्याओं से निजात मिलती है।
प्रयोग करने का तरीका:-

बेहतरीन लाभ हेतु इसका सेवन कच्चे जूस के रूप में करना चाहिए। अगर इसको पका कर सेवन किया जाए तो इसके एंजाइम खत्म हो जाते हैं। त्वचा पर खुजली होने पर इसके जूस को लगाया जा सकता है। लाभ मिलेगा।
– मेघा

Share it
Top