सायना पिछले नौ वर्ष में अपनी सबसे खराब रैंकिंग पर

सायना पिछले नौ वर्ष में अपनी सबसे खराब रैंकिंग पर

नयी दिल्ली। ओलंपिक कांस्य पदक विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी भारत की सायना नेहवाल गुरूवार को जारी ताजा विश्व बैडमिटन रैंकिंग में चार स्थान गिरकर 15वें नंबर पर खिसक गयी हैं जो पिछले नौ वर्ष में उनकी सबसे खराब रैंकिंग हैं। 

सायना को एक ही दिन में रैंकिंग में गिरावट के साथ साथ इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज टूर्नामेंट के दूसरे दौर में बाहर होने का भी झटका लग गया। इस टूर्नामेंट से बाहर हो जाने के बाद अगले सप्ताह जारी होने वाली रैंकिंग में सायना की स्थिति में और भी गिरावट आएगी।
योगी दलितों के साथ सहभोज का नाटक न करे… इससे नहीं बदलेगा दलितों का भाग्य:मायावती
पूर्व नंबर एक रह चुकी सायना ने 2009 का समापन आठवी रैंकिंग के साथ किया था। वह 2010 के अंत में चौथे , 2011 में तीसरे, 2012 में तीसरे, 2013 में आठवें, 2014 में चौथे, 2015 में दूसरे और 2016 के अंत में 10वें स्थान पर रही थीं। सायना अपने करियर में अप्रैल 2015 में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी भी बनी थीं। लेकिन 2017 में पिछले कुछ महीनों में लगातार खराब प्रदर्शन से उनकी रैंङ्क्षकग में गिरावट आती चली गयी और अब वह चार स्थान गिरकर 15वें नंबर पर खिसक गयी हैं। इस गिरावट के कारण ही सायना को इंडोनेशिया ओपन में कोई वरीयता नहीं मिली थी। इस बीच ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधू का तीसरा स्थान बना हुआ है। पुरूष रैंकिंग में अजय जयराम 13वें स्थान पर कामय हैं जबकि बी साई प्रणीत एक स्थान के सुधार के साथ 14वें नंबर पर आ गये हैं। किदाम्बी श्रीकांत आठ स्थान गिरकर 22वें नंबर पर खिसक गये हैं। एच एस प्रणय चार स्थान के सुधार के साथ 25वें नंबर पर आ गये हैं। प्रणय को अगली रैंकिंग में फायदा मिलेगा क्योंकि उन्होंने इंडोनेशिया ओपन के दूसरे दौर में विश्व के तीसरे नंबर के खिलाड़ी मलेशिया के ली चोंग वेई को हरा दिया है। पुरूष युगल में टॉप 25 में कोई भारतीय जोड़ी शामिल नहीं है। महिला युगल में भी यही स्थिति है जबकि मिश्रित युगल में प्रणव चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी 15वें स्थान पर कायम है।

Share it
Top