साक्षी का विश्व चैंपियनशिप में होगा'टेस्ट'

साक्षी का विश्व चैंपियनशिप में होगा

नयी दिल्ली। रियो ओलम्पिक में कांस्य पदक जीतकर इतिहास बनाने वाली महिला पहलवान साक्षी मालिक का 21 से 27 अगस्त तक फ्रांस के पेरिस में होने वाली विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में ओलम्पिक के बाद पहला असली टेस्ट होगा। 
साक्षी रियो ओलम्पिक में पदक जीतने वाली चौथी भारतीय पहलवान और पहली भारतीय महिला पहलवान बनी थीं। साक्षी ने पिछले साल रियो में अगस्त में हुए ओलम्पिक में कांस्य पदक जीतकर इतिहास बनाया था और उसके ठीक एक साल बाद अब वह विश्व चैंपियनशिप में उतरेंगीं लेकिन इस बार उनका नया भार वर्ग होगा।

http://www.royalbulletin.com/बीजेपी-विधायक-को-रिश्वतख/

साक्षी ने ओलम्पिक पदक जीतने के बाद सीधे प्रो रेसलिंग लीग में हिस्सा लिया लेकिन इस लीग में उन्होंने सिर्फ भारतीय पहलवानों से ही मुकाबले लड़े। दिल्ली सुल्तान टीम की तरफ से खेलने वाली साक्षी को लीग के एक मैच में ओलम्पिक कांस्य विजेता ट्यूनीशिया की मारवा अमरी से खेलना था लेकिन वह बीमार होने के कारण इस मैच में नहीं उतर पायीं। हरियाणा की साक्षी इसके बाद इस साल मई में दिल्ली में हुई एशियाई चैंपियनशिप में नए वजन वर्ग 60 किलोग्राम में उतरीं। साक्षी ने रियो का पदक 58 किलोग्राम में जीता था। देश को साक्षी से पूरी उम्मीद थी कि वह 60 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक हासिल करेंगी लेकिन रियो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली जापान की रिसाको कवाई ने मात्र दो मिनट 44 सेकंड में ही भारतीय पहलवान को धूल चटा दी। रिसाको ने 10-0 के अंतर से मुकाबला समाप्त कर दिया। जापानी पहलवान के लगातार 10 वां अंक हासिल करते ही मुकाबला रोक दिया गया और उन्हें तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर विजेता घोषित कर दिया गया। रिसाको ने रियो में 63 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण जीता था।

http://www.royalbulletin.com/देवबंद-में-माफियाओं-द्वा/

साक्षी के हाथ रजत पदक लगा जो एशियाई चैंपियनशिप में उनका पहला पदक था। साक्षी को पिछली एशियाई प्रतियोगिता में कोई पदक नहीं मिला था लेकिन इस बार वह रजत पदक तक पहुंच गयीं।उनके लिए असली मु$काबला अब विश्व चैंपियनशिप में होगा जहां दुनिया की दिग्गज पहलवान और खासतौर पर जापान की पहलवान मौजूद रहेंगी।
स्पोट््र्स ऑथोरिटी इंडिया लखनऊ उत्तरप्रदेश के ट्रेनिंग सेंटर में भारतीय महिला पहलवानों का चयन किया गया। चयन के दौरान भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और सीनियर महिला रेसलिग इंडिया चीफ कोच कुलदीप मालिक मौजूद थे। इससे पहले फ्री स्टाइल और ग्रीको रोमन पुरुष टीमों के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण के ट्रेनिंग सेंटर, सोनीपत में चयन प्रक्रिया का आयोजन किया गया।इस अवसर पर संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और कुश्ती संघ के महासचिव प्रसूद तथा अन्य चयनकर्ता मौजूद थे। 65 किग्रा फ्री स्टाइल में बजरंग बुखार की वजह से ट्रायल नही दे पाए। बजरंग ने संघ से प्रार्थना की है कि उनका ट्रायल रिकवरी के बाद अगले हफ्ते किसी भी समय लिया जाये। संघ ने मुख्य कोच की रिपोर्ट के आधार पर बजरंग को इसकी अनुमति दे दी है। बजरंग और राहुल मान के बीच एक फाइनल ट्रायल होगा और जो ट्रायल में विजयी रहेगा वह विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में हिस्सा लेगा।

Share it
Share it
Share it
Top