सही एहतियात बरतें… और कैंसर से रहें दूर

सही एहतियात बरतें… और कैंसर से रहें दूर

cancer आज की जीवन शैली कुछ ऐसी हो गयी है कि रोगों की संभावना बढ़ती ही जा रही है फिर चाहे वह हृदय रोग हों या कैंसर या अन्य कोई रोग। ऐसी बात नहीं कि विशेषज्ञ इन जानलेवा रोगों से रोगियों की रक्षा करने में नई तकनीकें, दवाएं ईजाद नहीं कर रहे पर फिर भी इन रोगियों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। इन रोगों का कारण वंशानुगत, गलत भोजन, प्रदूषण, निष्क्रि य जीवन शैली आदि हैं। इनमें से कुछ कारणों पर तो व्यक्ति का बस नहीं पर कुछ कारण ऐसे हैं जिस पर व्यक्ति अवश्य काबू पा सकता है।
आज सबसे जानलेवा रोग बना हुआ है कैंसर और विशेषज्ञों का मानना है कि अनुमानत: एक तिहाई कैंसरों के होने का कारण है धूम्रपान, निष्क्रि य जीवन शैली, मोटापा और जीवन शैली से जुड़े अन्य कारण जिन पर नियंत्रण पा व्यक्ति इस रोग की संभावना को कम कर सकता है। इसके अतिरिक्त नियमित कैंसर स्क्रीनिंग टेस्ट भी कई प्रकार के कैंसरों को समय पर जानने में सहायता देते हैं जिससे प्रारंभ में ही इस रोग को पकड़ इसका इलाज किया जाना संभव हो सकता है।
विशेषज्ञों के अनुसार व्यक्ति कुछ एहतियात बरत कर कैंसरकारी तत्वों से दूर रहकर कैंसर से बचाव पा सकता है। आइए जानें-
ये एहतियात क्या हैं-

– सबसे पहले तो अपने काम की जगह पर ध्यान दें। अगर आप कैमिकल्स फैक्टरी में काम करते हैं या कैमिकल संबंधित कार्य करते हैं जैसे ‘वुड डस्ट’, ‘पेंट थिनर्स’, ‘परक्लोरोथाइलीन डाई’ आदि तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी पड़ सकती हैं जैसे ‘वुडडस्ट’ के साथ काम करते वक्त सुरक्षित मास्क, दस्ताने का प्रयोग कर। पेन्ट करने वाले व फर्नीचर बनाने वाले व्यक्तियों को भी कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि वे पेन्ट थिनर और वुड डस्ट पर काम करते वक्त इनमें पाए जाने वाले कैंसरकारी रसायनों को अन्जाने अपने अन्दर ले लेते हैं। इसलिए आप पर इन रसायनों का प्रभाव न पड़े, इसके लिए आप डॉक्टर से परामर्श लें ताकि वह उक्त रसायन से आपके बचाव के बारे में आपको सही राय दे सकें।
– फेफड़ों, मुँह, पेट, जिगर आदि के कैंसर का सबसे बड़ा कारण है धूम्रपान। धूम्रपान करने वाला व्यक्ति तो रोग का शिकार होता ही है, साथ ही वह अपने आस-पास के व्यक्तियों के स्वास्थ्य को भी प्रभावित करता है, इसलिए आप स्वयं भी धूम्रपान न करें और धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों को भी अपने से दूर रखें। अपने घर, कार आदि में किसी भी व्यक्ति को धूम्रपान न करने दें। बेशक किसी को बुरा लग सकता है पर इससे आपका व आपके परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य सुरक्षित रहेगा।
– शारीरिक श्रम अथवा व्यायाम नियमित करें। प्रतिदिन कम से कम आधा घंटा व्यायाम अवश्य करें। इससे आप कई प्रकार के कैंसर जैसे कोलोन, स्तन कैंसर आदि की संभावना को कम कर सकते हैं। नियमित व्यायाम से कई अन्य रोगों हृदय रोगों। मधुमेह आदि को भी दूर रखा जा सकता है।
अनिंद्रा के है शिकार.. तो ..जानिये..क्या-क्या कोशिश करें…. आप निंदिया को बुलाने के लिए
– मीट का सेवन अधिक मात्रा में न करें खासकर रेड मीट। इससे कैंसर की संभावना बढ़ती है।
– कई शोधों से यह प्रमाणित हो चुका है कि कई प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन आपको कैंसर से दूर रखता है। टमाटर, लाल मिर्च, लहसुन, फालसा, शकरकंद, आलू बुखारा, ब्रोकली, फूलगोभी, गाजर आदि में कैंसर से सुरक्षा देने वाले एंटीआक्सीडेंट व फाइटोन्यूट्रीयेन्टस पाए जाते हैं इसलिए इन्हें अपने भोजन में शामिल करें। इसके अतिरिक्त पोषक तत्वों से युक्त आहार लें और अपने भोजन में वसा की मात्र कम करें। फाइबरयुक्त खाद्य पदार्थों, फलों व सब्जियों का सेवन करें।
– कई शोधों से यह प्रमाणित हुआ है कि मछली का सेवन भी कई प्रकार के कैंसर को होने से रोकता है। मछली प्रोटीन और ओमेगा 3 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत है, इसलिए इसे भी अपनी डाइट में शामिल करें।
ह्म् तैलीय भोजन का सेवन कम करें। कई तैलीय भोजन में एक्र ीलामाईड (कैंसरकारी तत्व) का स्तर अधिक होता है इसलिए इनका सेवन न करें।
– आवश्यक होने पर ही एक्सरे करवाएं। कई बार अनावश्यक एक्सरे करवाए जाते हैं जिनका रेडिएशन भी कैंसर का कारण बन सकता है, इसलिए अगर आप डॉक्टर बदल रहे हैं तो अपने पूर्व कराए हुए एक्सरे साथ ले जाएं ताकि पुन: एक्सरे करवाने की आवश्यकता न पड़े।
– प्रदूषण भरे वातावरण से जितना दूर रह सकें, रहने की कोशिश करें क्योंकि ऐसे वातावरण में कई हानिकारक गैसें होती हैं जो आपको न केवल सांस की बीमारियां बल्कि कैंसर भी दे सकती हैं, इसलिए अधिक टै्रफिक वाली जगह पर न रहें और धुएं से दूर रहें।
– सोनी मल्होत्राआप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..

Share it
Top