समुद्री खाद्य उत्पादों का रिकार्ड निर्यात

समुद्री खाद्य उत्पादों का रिकार्ड निर्यात

नयी दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में फ्रोजेन झींगा और मछली की भारी मांग की वजह से पिछले वित्त वर्ष में 37870 करोड़ रुपये मूल्य का सी फूड देश से निर्यात किया गया है जो एक रिकार्ड है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार 2016.17 में 1134948 टन सी फूड का निर्यात किया गया जो इससे पूर्व 945892 टन था। समुद्री उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एमपीडा) के अनुसार अमेरिका और दक्षिण पूर्व एशिया में बड़े पैमाने पर सीफूड आयात किया जाता है और यूरोपियन यूनियन में भी इसकी मांग बढ़ रही है। पिछले वर्ष अमेरिका को सबसे अधिक 188617 टन सी फूड का निर्यात किया गया है जबकि दक्षिण पूर्व एशिया दूसरे स्थान पर है। यूरोपियन यूनियन, जापान, पश्चिम एशिया, चीन तथा अन्य देशों को भी सी फूड का निर्यात किया गया है। दक्षिण पूर्व एशिया में समुद्री खाद्य उत्पाद का निर्यात 47.41 प्रतिशत बढ़ा है। सी फूड में फ्रोजेन झींगा का सबसे अधिक निर्यात किया गया। कुल निर्यात में इसका 38.28 प्रतिशत का योगदान है। झींगा निर्यात में 16.21 प्रतिशत की वृद्धि हुयी है। फ्रोजेन मछली निर्यात में दूसरे स्थान पर है और निर्यात में मात्रा के हिसाब से इसकी 26.15 प्रतिशत की हिस्सेदारी है।
किसान आंदोलन: मप्र बंद, कांग्रेस उतरी सड़कों पर, ट्रकों में लगाई आग, तीन जगह कर्फ्यू
मत्स्य पालन में विविधिकरण करने तथा आधारभूत सुविधाओं में विस्तार किये जाने के कारण झींगा की एल वन्नमै किस्म का उत्पादन बढ़ा है और इसे मूल्य संवर्धित भी किया गया है जिसके कारण निर्यात बढ़ा है। कुल मिला कर झींगा का निर्यात 434484 टन किया गया। अमेरिका को सबसे अधिक 165827 टन फ्रोजन झींगा निर्यात किया गया। इसी प्रकार यूरोपियन यूनियन को 77178 टन, दक्षिण पूर्व एशिया को 105763 टन, जापान को 31284 टन मध्य पूर्व एशिया को 19554 टन, चीन को 7818 टन और अन्य देशों को 27063 टन फ्रोजन झींगा का निर्यात किया गया। बेहद स्वादिष्ट वन्नमै झींगा का निर्यात 256699 टन से बढ कर 2016..17 में 329766 टन हो गया। मात्रा के हिसाब से इसमें 28.46 प्रतिशत की वृद्धि हुयी है। जापान ब्लैक टाइगर झींगा का बडा बाजार है। इसकी अमेरिका और दक्षिण पूर्व एशिया में भी मांग है। वियतनाम, दक्षिण पूर्व एशिया,थाईलैंड, ताईवान, मलेशिया सिंगापुर और दक्षिण कोरिया में भारतीय समुद्री खाद्य उत्पादों की अच्छी मांग हैं। यूरोपियन यूनियन में वन्नमै झींगा का निर्यात 9.76 प्रतिशत बढ़ा है। देश से फ्रोजन स्वीड और फ्रोन कट्लफिश का भी निर्यात किया जाता है। सूखे समुद्री खाद्य उत्पाद में 40.98 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है।

Share it
Top