सबसे आसान व उत्तम उपाय …खेल-खेल में करें व्यायाम..

सबसे आसान व उत्तम उपाय …खेल-खेल में करें व्यायाम..

 अच्छा शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य पाने के लिए हर व्यक्ति प्रयासरत रहता है पर शायद बहुत ही कम लोग इस बात को जानते हैं कि इसे पाने का सबसे आसान व उत्तम उपाय है किसी भी ‘स्पोर्टस एक्टिविटी’ अर्थात किसी भी खेल को अपने जीवन में शामिल कर लेना, ऐसा खेल जिसमें आपका शरीर व दिमाग दोनों चुस्त रहें।
खेल खेलते समय हमारा शरीर तो कार्य करता ही है, साथ ही हमारे हृदय को भी रक्त अधिक पहुंचता है जिससे हमारे शरीर के सेल्स को ऑक्सीजन की पूर्ति अधिक होती है और शारीरिक क्षमता में वृद्धि आती है। खेल खेलते समय हम शारीरिक व मानसिक रूप से अच्छा महसूस करते हैं। हममें आत्म-विश्वास व आत्म-नियंत्रण की भावना आती है और जब हमारा शरीर खेल खेलते समय नियमित व्यायाम करता है तो शरीर से अतिरिक्त वसा कम होती है, मांसपेशियां सुदृढ़ बनती हैं और शरीर स्लिम बनता है।
वैसे तो व्यक्ति अपनी रूचि के अनुसार खेल का चयन करता है पर अगर आप व्यायाम के उद्देश्य से स्पोर्टस एक्टिविटी का चयन करने जा रहे हैं तो यह आपके शरीर पर निर्भर करता है जैसे मोटे व्यक्तियों के लिए पैदल चलना, साइकिल चलाना व तैराकी अच्छी एक्टिविटी है पर पतले व्यक्तियों के लिए एरोबिक्स, जॉगिंग, दौडऩा, आदि अच्छे हैं और सामान्य शरीर वाले किसी भी एक्टिविटी का चयन कर सकते हैं।
एक्टिविटी चयन पर आपका व्यक्तित्व भी प्रभाव डालता है। अगर आप अंतर्मुखी हैं तो आप तैराकी, साइकिलिंग आदि का चयन करते हैं क्योंकि उसे आप अकेले कर सकते हैं और अगर आप लोगों का साथ पसंद करते हैं तो आप अपने दोस्तों के साथ जिम में एरोबिक्स, वेट ट्रेनिंग प्रोग्राम आदि का चयन करते हैं।
घर में एक स्टडीरूम हो, इस बात को गंभीरता से लिया जाना चाहिए..!

आप जिस भी एक्सरसाइज का चयन करें, यह ध्यान रखें कि प्रारंभ हमेशा थोड़े से करें जैसे प्रारंभ में सप्ताह में तीन-चार बार वह एक्टिविटी करें, प्रतिदिन नहीं। किसी भी एक्टिविटी को कितना समय दें, यह आपकी आयु व स्टेमिना दोनों पर निर्भर करता है। इसके लिए आप अपने विशेषज्ञ से सलाह ले सकते हैं। जब भी आप किसी भी एक्टिविटी को करते वक्त थकावट महसूस करें, फौरन आराम कीजिए। आइए जानें कुछ स्पोर्टस एक्टिविटी व उनके लाभों को:-
एरोबिक्स:- एरोबिक्स हृदय के लिए अच्छा है व शारीरिक गठन में भी सुधार लाता है। वैसे यह सम्पूर्ण शरीर के लिए अच्छा व प्रभावी व्यायाम है। इसे आप घर पर भी कर सकते हैं और एरोबिक्स क्लास भी ज्वाइन कर सकते हैं।
टेनिस:- टेनिस में भी कुछ स्तर तक एरोबिक्स व्यायाम जुड़ा है व यह भी एरोबिक्स के ही लाभ देता है। यह तब तक है जब तक आप इस में जीत-हार को गंभीरता से नहीं लेते। अगर आप जीतने के लिए इस खेल को खेलते हैं तो आपको यह कम आराम पहुंचाएगा।
साइकिल चलाना:- फिट रहने के लिए यह बहुत अच्छा खेल है। हृदय व फेफड़ों के लिए भी यह अच्छा व्यायाम है। साइकिल चलाने से टांगों की मांसपेशियां भी सशक्त बनती हैं। आप साइकिल पर जितने पैडल मारेंगे, उतनी कैलोरी खर्च करेंगे।
गोल्फ:- गोल्फ है तो धीमा खेल पर इसमें आपको सबसे बड़ा फायदा मिलता है कि इसमें आपका पैदल चलना काफी हो जाता है और अगर आप पहाड़ी स्थल पर गोल्फ का मजा ले रहे हैं तो ऊपर जाने व नीचे आने में एरोबिक एक्टिविटी भी हो जाएगी। इसे खुले वातावरण में खेला जाता है और यह एक ‘सोशल स्पोर्ट’ माना जाता है।
तैराकी:- स्वास्थ्य व फिटनेस के लिए सबसे अच्छा व्यायाम है तैराकी। अगर इसे आल राउण्ड एक्सरसाइज कहा जाए तो गलत नहीं होगा। अगर इसे नियमित किया जाए तो यह हृदय को सबसे अधिक लाभ पहुंचाती है। यह उन व्यक्तियों के लिए भी सुरक्षित है जो अधिक वजन के हैं और वृद्ध लोगों के लिए भी। तैराकी करते वक्त एक घण्टे में अनुमानत: 300-700 कैलोरी खर्च होती हैं। यह महिलाओं के लिए अच्छा व्यायाम है क्योंकि यह कमर को पतला करती है व शरीर के ऊपरी भाग को मजबूत बनाती है।
एेसे बनाएं क्रिस्पी डोसा, रवा-डोसा और प्यार से फैमिली को खिलाएं..!

खाने के दो घंटे तक तैराकी न करें और अगर आप पहली बार तैराकी कर रहे हैं तो 10-15 मिनट से अधिक न करें और इस दौरान स्ट्रोक लगाते वक्त सभी मांसपेेशियों को प्रयोग में लाएं। तैराकी करते वक्त नुकसान सिर्फ यह होता है कि क्लोरीन व साल्ट वाटर दोनों ही त्वचा और बालों को रूखा करते हैं। इसलिए तैरने के पश्चात् शावर लेने के उपरांत त्वचा पर माश्चराइजर और बालों की कंडीशनिंग अवश्य करें। बाथिंग कैप व गागल्स का प्रयोग भी तैराक अवश्य करें।
रस्सी कूदना:- रस्सी कूदना लड़कियों में प्रचलित खेल है। अगर इसे नियमित किया जाए तो यह बहुत ही उत्तम खेल है और सबसे ज्यादा आसान बात है कि यह बहुत ही सस्ता व्यायाम उपकरण है। इससे सम्पूर्ण शरीर क्रियाशील रहता है, चाहे वह हाथ हो या पैर, इसलिए स्वास्थ्य के लिए अच्छे खेलों में इसकी गिनती की जाती है।
दौडऩा और जॉगिंग:- ये हृदय व फेफड़ों के लिए बहुत ही अच्छे व्यायाम हैं और अधिकतर सभी व्यक्ति इन्हें आसानी से कर सकते हैं। इनकी गति व समय धीरे-धीरे बढ़ाएं।
फ्री वेटस:- डंबल्स मांसपेशियों की मजबूती व टोनिंग के लिए अच्छे व्यायाम हैं। पहले हल्के वजन से शुरू कर धीरे-धीरे भारी वजन का प्रयोग करें।
-सोनी मल्होत्रा

Share it
Share it
Share it
Top