शेयर बाजार 13 माह के उच्चतम स्तर पर

शेयर बाजार 13 माह के उच्चतम स्तर पर

मुंबई। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसीएल) और रियल्टी कंपनी डीएलएफ के मजबूत तिमाही परिणामों से उत्साहित निवेशकों की चौतरफा लिवाली की बदौलत आज शेयर बाजार डेढ़ फीसदी से अधिक की छलाँग लगाकर 13 महीने के उच्चतम स्तर पर रहे। बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सात सप्ताह की एक दिन की सबसे बड़ी 440.35 अंक अर्थात 1.58 फीसदी की तेजी लेकर 23 जुलाई 2015 के उच्चतम स्तर 28,343.01 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 136.90 अंक यानी 1.59 फीसदी उछलकर 08 अगस्त के बाद 8,700 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार 8,744.35 अंक पर बंद हुआ। विदेशी बाजारों की तेजी के बीच स्थानीय स्तर पर सार्वजनिक क्षेत्र की देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी आईओसीएल का शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 25 फीसदी उछलने और रियलटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी डीएलएफ के तिमाही परिणाम भी मजबूत रहने से निवेशधारणा मजबूत रही। इसकी बदौलत सेंसेक्स और निफ्टी दोनों को बल मिला। बड़ी कंपनियों की तरह छोटी और मझौली कंपनियों में भी लिवाली का जोर रहने से भी बाजार को समर्थन मिला। बीएसई का मिडकैप 0.80 फीसदी बढ़कर 13,168.39 अंक और स्मॉलकैप 1.02 फीसदी की तेजी के साथ 12,626.09 अंक पर रहा। इस दौरान दूरसंचार समूह की 1.20 फीसदी गिरावट को छोड़कर बीएसई के शेष 19 समूहों में तेजी रही। ऑटो समूह ने सर्वाधिक 1.81 फीसदी मुनाफा कमाया। इसके अलावा धातु, तेल एवं गैस, यूटिलिटीज, हेल्थकेयर, एफएमसीजी, वित्त, बेसिक मैटिरियल्स और सीडीजीएस समूह के शेयर 1.79 फीसदी तक की मजबूती रही। बीएसई में कुल 2927 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,638 के भाव चढ़े जबकि 1,073 में गिरावट रही जबकि 216 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

Share it
Top