शिखर से फिसला सेंसेक्स

शिखर से फिसला सेंसेक्स

मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच स्थानीय स्तर पर आईटी, टेक, बैं किंग और ऑटो समूहों की कंपनियों में हुई बिकवाली से घरेलू शेयर बाजार आज मामूली गिरावट में रहे। 
गत दिवस 31,369.34 अंक के अब तक केे रिकॉर्ड स्तर पर बंद होने वाला बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 0.03 प्रतिशत यानी 8.71 अंक टूटकर 31,360.63 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 0.09 प्रतिशत यानी 8.75 अंक फिसलकर 9,665.80 अंक पर रहा।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल की दाम घटने से ऊर्जा समूह में डेढ़ फीसदी से ज्यादा की तेजी रिपीट तेजी देखी गयी। रियलिटी समूह का सूचकांक भी करीब डेढ़ फीसदी चढ़ा रिपीट चढ़ा। सेंसेक्स की कंपनियों में आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, इंफोसिस, एशियन पेंट््स, हीरो मोटोकॉर्प, एचडीएफसी और ओएनजीसी के शेयर 1.08 से 1.28 प्रतिशत तक लुढ़के। वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज में साढ़े तीन प्रतिशत और ल्युपिन में तीन प्रतिशत से ज्यादा की तेजी रही।
गत दिवस की बढ़त को जारी रखते हुये सेंसेक्स 04.18 अंक चढ़कर 31,373.52 अंक पर खुला और खुलते ही लाल निशान में चला गया। पहले घंटे के कारोबार में ही यह 31,286.62 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतर चुका था। हालाँकि, आखिरी दो घंटे में यह हरे निशान में लौटने में कामयाब रहा और एक समय 31,426.29 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक भी पहुँचा। लेकिन, अंतत: 8.71 अंक की गिरावट के साथ 31,360.63 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में से 11 हरे और 19 लाल निशान में रहीं।

http://www.royalbulletin.com/मुजफ्फरनगर-किसान-ऋण-माफी/

सेंसेक्स के विपरीत निफ्टी की शुरुआत 4.20 अंक की गिरावट के साथ 9,670.35 अंक पर हुई। कारोबार के दौरान इसका दिवस का निचला स्तर 9,642.65 अंक और उच्चतम स्तर 9,684.25 अंक रहा। कारोबार की समाप्ति पर यह 8.75 अंक फिसलकर 9,665.80 अंक पर रहा। निफ्टी की 51 कंपनियों में से 19 के शेयर हरे और 31 के लाल निशान में रहे जबकि एक में कोई बदलाव नहीं हुआ।
बीएसई में कुल 2,811 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,372 में लिवाली और 1,295 में बिकवाली का जोर रहा। वहीं, 144 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये। बड़ी कंपनियों के साथ मझौली कंपनियों पर भी दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.04 प्रतिशत टूटकर 14,941.77 अंक पर आ गया। छोटी कंपनियों के शेयरों में निवेशकों का विश्वास बना रहा। बीएसई का स्मॉलकैप 0.26 प्रतिशत की तेजी के साथ 15,830.76 अंक पर पहुँच गया।
अधिकतर एशियाई और यूरोपीय शेयर बाजारों में गिरावट रही। एशिया में जापान का निक्की 0.32 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.33 प्रतिशत और हांगकांग का हैगसेंग 0.49 प्रतिशत की गिरावट में रहे। चीन का शंघाई कंपोजिट 0.15 प्रतिशत चढ़ गया। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.07 प्रतिशत मजबूत हुआ जबकि जर्मनी का डैक्स 0.22 प्रतिशत फिसल गया।

http://www.royalbulletin.com/yogi-is-serious-on-the-death-of-05-people-by-illegal-liquor-in-ropnapar/

बीएसई के 20 में से 11 समूहों में गिरावट रही जबकि नौ के सूचकांक हरे निशान में रहे। ऊर्जा समूह में सर्वाधिक 1.63 प्रतिशत की तेजी देखी गयी। रियलिटी समूह का सूचकांक 1.48 प्रतिशत और स्वास्थ्य का 1.03 प्रतिशत की बढ़त में रहा। इनके अलावा इंडस्ट्रियल्स, यूटिलिटीज, पूँजीगत वस्तुएँ, तेल एवं गैस और पावर में भी बढ़त रही। सबसे ज्यादा 0.73 प्रतिशत की गिरावट रही। 

सेंसेक्स की कंपनियों में आईसीआईसीआई बैंक के शेयर सबसे ज्यादा 1.28 प्रतिशत, एक्सिस बैंक के 1.25, इंफोसिस के 1.21, एशियन पेंट््स के 1.20, हीरो मोटोकॉर्प के 1.11, एचडीएफसी के 1.10, ओएनजीसी के 1.08, बजाज ऑटो और आईटीसी दोनों के 0.79, टीसीएस के 0.54, मारुति सुजुकी के 0.53, अदानी पोट््र्स के 0.34, पावर ग्रिड के 0.26, भारतीय स्टेट बैंक के 0.25, विप्रो के 0.19, महिंद्रा एंड मङ्क्षहद्रा के 0.13, टाटा स्टील के 0.10, कोल इंडिया के 0.08 और टाटा मोटर्स के 0.07 प्रतिशत लुढ़के।
मुनाफा कमाने वालों में रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में 3.43 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गयी। ल्युपिन के शेयर 3.28, डॉ. रेड्डीज लैब के 1.39, भारती एयरटेल के 1.07, सन फार्मा के 0.88, एनटीपीसी के 0.73, कोटक महिंद्रा और सिप्ला दोनों के 0.59, एलएंडटी के 0.50, हिंदुस्तान यूनिलिवर के 0.46 और एचडीएफसी बैंक के 0.40 प्रतिशत की तेजी में रहे।

Share it
Top