शर्मसार करती भूख से मौत!

शर्मसार करती भूख से मौत!

bhookhराजस्थान के उदयपुर स्थित पड़ावलीकलां पंचायत के मादड़ी गांव में भूख से एक बच्ची और उसके दो भाइयों की मौत हो गई। ग्रामीणों का कहना है कि परिवार के पास दो माह से राशन नहीं था, जबकि अधिकारियों का दावा है कि बरसाती नाले का पानी पीने से बच्चे बीमार हुए और उनकी मौत हो गई। ग्रामीणों का आरोप है कि गांव के अधिकांश लोगों को राशन सामग्री का वितरण नहीं किया जा रहा है, जिससे खासी दिक्कतें हो रही हैं। इस खबर को भूख या बीमारी से मरते बच्चों को सामने रखकर यदि हम लचर हो चुकी व्यवस्था पर आरोपित करके देखें तो शर्मसार हुए बिना नहीं रहा जा सकता।एक तरफ गोदामों में सड़ता अनाज और दूसरी तरफ भूख से मरते बच्चे, क्या यही आजाद हिन्दुस्तान की तस्वीर है। यदि नहीं तो फिर क्या कारण है कि बीमार बच्चों और महिलाओं को सात दशक गुजर जाने के बाद भी उचित इलाज नहीं मिल पा रहा है। सवाल यही है कि स्वतंत्र भारत के नागरिकों को अपनी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए और कितने सालों तक इंतजार करना होगा।

Share it
Top