विमानन क्षेत्र में 10 साल में 10 लाख प्रत्यक्ष रोजगार

विमानन क्षेत्र में 10 साल में 10 लाख प्रत्यक्ष रोजगार

jobsनई दिल्ली। नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने आज कहा कि दीर्घावधि में विमानन क्षेत्र दीर्घावधि में 10 से 12 प्रतिशत की दर से बढ़ेगा तथा इसमें अगले 10 साल 10 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा।
नागरिक उड्डयन मंत्रालय तथा कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय के बीच कौशल प्रशिक्षण कौशल विकास की संभावनाओं को लेकर एक सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर के लिए आयोजित कार्यक्रम में श्री सिन्हा ने कहा कि यह एमओयू विमानन क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के लिए अभी सबकुछ अच्छा चल रहा है – सिवाय दो चुनौतियों के। एक है हवाई अड्डों के लिए जमीन की कमी तथा दूसरी है कौशल प्राप्त श्रमबल की कमी।
टैम्पो से पुलिस अधीक्षक का चार्ज लेने पहुंचे युवक से स्टेनो ने पूछा -आप है कौन..?
    उन्होंने उम्मीद जताई कि इस एमओयू से दूसरी चुनौती का हल निकल जायेगा। उन्होंने कहा कि विमानन क्षेत्र में हर रोजगार के नये अवसर अर्थव्यवस्था में रोजगार के छह नये अवसर पैदा करता है। इसलिए 10 लाख लोगों को सीधे रोजगार मिलने का मतलब है कि इसके कारण अर्थव्यवस्था में 60 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। श्री सिन्हा ने कहा कि विमानन क्षेत्र के लिए 20 प्रतिशत या 23 प्रतिशत की विकास दर लंबे समय बनाये रखना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा होता है तो हम इसे सँभाल नहीं पायेंगे। हालाँकि, उन्होंने अगले 15 साल में 10 से 12 प्रतिशत की वृद्धि दर हासिल करना संभव है। उन्होंने कहा कि पिछले 15 साल में भी देश का विमानन क्षेत्र 1० से 12 प्रतिशत की दर से बढ़ा है।आप ये ख़बरें और ज्यादा पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..कृपया एप और साईट के बारे में info @royalbulletin.com पर अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें…

Share it
Top