विपक्ष के सिर अशांति का ठीकरा

विपक्ष के सिर अशांति का ठीकरा

mehbooba-mufti
जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती का कहना है कि नेशनल कांफ्रेस के अध्यक्ष फारूख अब्दुल्ला के बयान से यह साबित होता है कि कश्मीर में काफी समय से चल रही अशांति के पीछे विपक्ष का हाथ है। दरअसल फारूख ने कहा था कि उनकी पार्टी अलगाववादी हुर्रियत के खिलाफ नहीं है। बस यही वह कारण है जिससे समझा जा रहा है कि आठ जुलाई के बाद से घाटी में अशांति के दौरान वाहनों पर पत्थर फेंकने, स्कूलों में आगजनी और सुरक्षा बलों के शिविरों पर हमले के लिए अपराधी ही नहीं बल्कि विपक्ष भी जिम्मेदार है।
अब आपको महसूस नहीं होगा अकेलापन…अपनी पसंदीदा चीज पर करें फोकस
इस तरह के आरोप लगाने में हर्ज भी नहीं है क्योंकि जब महबूबा विपक्ष में थीं तो उन पर भी अलगाववादियों से सांठगांठ रखने और अशांति फैलाने के आरोप लगते रहे हैं। बहरहाल यह राजनीतिक आरोप हैं, जबकि सभी जानते हैं कि इस समय घार्टी में अशांति के असली अपराधी कौन हैं और उनसे किस स्तर पर निपटा जा सकता है। 
add-royal-copy

Share it
Top