रियल एस्टेट को जीएसटी में लाने पर कालेधन पर लगेगी रोक: सिसोदिया

रियल एस्टेट को जीएसटी में लाने पर कालेधन पर लगेगी रोक: सिसोदिया

नई दिल्ली। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अचल सम्पत्ति क्षेत्र को वस्तु एवं सेवा कर प्रणाली (जीएसटी) के दायरे में लाने की पुरजोर मांग करते हुए आज कहा कि इससे कालेधन पर रोक लगाने में मदद मिलेगी। श्री सिसोदिया ने यहां जीएसटी की ग्यारहवीं बैठक में इस मुद्दे को उठाते हुए कि किसी में उनके विचारों का समर्थन करने का साहस नहीं है। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि ज्यादातर कालाधन अचल सम्पत्ति (रियल एस्टेट) क्षेत्र में है। इसे जीएसटी के अंतर्गत लाने से पारदर्शिता बढ़ेगी और कालेधन पर रोक लगने से कीमतों में कमी आयेगी। उन्होंने अपने ट्वीटर अकांउट पर वित्त मंत्री अरुण जेटली को पत्र भी लिखा है, जिसमें उन्होंने जीएसटी कहा है कि विभिन्न जटिल मुद्दों के समाधान में उनकी समझदारी काम आयी है और नयी सुधार प्रणाली में इस क्षेत्र को शामिल नहीं करना बड़ी भूल होगी।
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: छठे चरण में करीब 57. 03 फीसदी मतदान, मणिपुर में पहले चरण के लिए जमकर पड़े वोट
उन्होंने मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमणियम के दृष्टिकोण का उल्लेख किया, जो उन्होंने मीडिया के साथ साक्षात्कार में व्यक्त किये थे। उसमें श्री सुब्रमणियम ने कहा था कि जीएसटी से रियल एस्टेट क्षेत्र को बाहर रखने से क्या नुकसान हो सकते हैं।

Share it
Top