राहत: अब एटीएम से एक दिन में निकाले जा सकेंगे 4500 रुपए, ट्रांजेक्शन पर लगेगा शुल्क

राहत: अब एटीएम से एक दिन में निकाले जा सकेंगे 4500 रुपए, ट्रांजेक्शन पर लगेगा शुल्क

मुंबई। केंद्र सरकार ने नगदी की संकट से जूझ रहे लोगों को 30 दिसंबर की देर रात को राहत देने का निर्णय लेते हुए घोषणा की है कि अब एटीएम से एक दिन में 2500 की जगह 4500 रुपए निकाले जा सकेंगे। हालाँकि, एटीएम से किये जाने वाले ट्रांजेक्शनों की संख्या में दी गयी असीमित छूट की अवधि 30 दिसंबर को समाप्त हो गयी तथा अब बैंक पुराने नियमों के अनुसार इस पर शुल्क वसूल सकेंगे।  उल्लेखनीय है कि चलन से बाहर किए गए 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों को जमा कराने की 50 दिन की समय-सीमा समाप्त होने के बाद इस आशय की घोषणा की गई। गौरतलब हो कि गत 8 नवम्बर की रात में 500 और 1000 रुपए के नोटों को चलन से बाहर करने की घोषणा करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि 30 दिसंबर तक लोग अपने पुराने नोटों को बैंक में जमा करा सकते हैं। इसके साथ ही बैंक व एटीएम से नगदी निकालने की सीमा तय कर दी गई थी।
कलयुग में फिर लिख दी गई रामायण….कैकेयी ने आखिर दिला ही दिया वनवास…!
अब जब 30 दिसंबर को बैंक में पुराने नोटों को जमा करने की नियाद खत्म हो गई तो सरकार ने देर रात नकदी संकट से जूझ रहे लोगों को राहत की खबर दे दी। केंद्र सरकार से राहत की खबर आते ही रिजर्व बैंक ने घोषणा की है कि एटीएम से पैसे निकालने की सीमा बढ़ा दी गई है। यह नया नियम एक जनवरी से लागू होगा। हालांकि बैंक काउंटर साप्ताहिक निकासी की सीमा नहीं बढ़ाई गई और उसे यथावत 24 हजार रुपए ही रखा गया है। वहीं रिजर्व बैंक ने 500 रुपये के नोट ज्यादा से ज्यादा संख्या में उपलब्ध कराए जाने की बात भी कही है। इससे पहले वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि रिजर्व बैंक के पास पर्याप्त करेंसी है और कैश सप्लाई में काफी सुधार आया है।

Share it
Top