रामगढ़ में एक अदभुत बच्चे ने लिया जन्म, माथे, बाजू और छाती पर हर दिन उभर रहे हैं नए-नए निशान

रामगढ़ में एक अदभुत बच्चे ने लिया जन्म, माथे, बाजू और छाती पर हर दिन उभर रहे हैं नए-नए निशान

 child-new
रांची। रामगढ़ में एक विशेष बच्चे ने जन्म लिया है। इस बच्चे का जन्म 10 अगस्त को हुआ था और तब से ही इसे देखने दूर-पास से आने वाले लोगों का तांता लगा हुआ है। इस बच्चे की में खास बात यह है कि उसके माथे, बाजू और छाती पर हर दिन बदल बदल कर त्रिशूल, स्वास्तिक, ऊं, त्रिनेत्र आदि की आकृति उभर रही हैं। इस बच्चे को देखने आसपास के गांव के लोग रोज रामगढ़ पहुंच रहे हैं। कोई बच्चे को शिव तो कोई दुगा तो कोई विष्णु का अवतार मान रहा है।
इस मंदिर में शादी के लिए जरूरी है आधार कार्ड
 रोज सुबह अरूण कुंवर के घर इस अद्भुत बच्चे को देखने वालों का तांता लगा रहता है। हाल में बच्चे के माथे पर त्रिशूल की आकृति उभरी हुई दिखी थी। इसे बच्चे के माथे पर साफ देखा जा सकता था। शाम होते-होते यह आकृति धूंधली पड़ने लगती है और अंधेरा होने पर यह गायब हो जाती है। दूसरे दिन फिर यह आकृति दिखने लगती है। परिवार का कहना है बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है और इस बात का उसके स्वास्थ्य पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। बच्चे के घर में त्योहार जैसा माहौल है और जल्द ही यहां अष्टयाम कीर्तन के आयोजन की तैयारी हो रही है। बच्चे की जांच करने वाले स्थानीय डॉक्टर इस बात से हैरान है। स्थानीय डॉक्टर का कहना है कि ऐसा क्यों हो रहा है इस बात का पता तो किसी बड़े मेडिकल संस्थान में जांच करने से ही चल पाएगा। उनका मानना है कि ब्लड कैपलरीज डिफेक्ट से हिमान्जयोमा नामक बीमारी के कारण भी ऐसा हो सकता है।आप ये ख़बरें और ज्यादा पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..कृपया एप और साईट के बारे में info @royalbulletin.com पर अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें…

Share it
Share it
Share it
Top