मुजफ्फरनगर के खतौली का राजा बाल्मीकि हत्याकांड: खुलासे की कहानी में झोल….लोगों के गले नहीं उतर पा रही पुलिसिया कहानी

मुजफ्फरनगर के खतौली का राजा बाल्मीकि हत्याकांड: खुलासे की कहानी में झोल….लोगों के गले नहीं उतर पा रही पुलिसिया कहानी

खतौली। कोतवाली पुलिस द्वारा भाजपा नेता राजा बाल्मिकी हत्याकाण्ड का खुलासा किये जाने की कहानी नगरवासियों के गले नहीं उतर रही है। बुधवार को भाजपा नगर अध्यक्ष प्रशांत देशवाल द्वारा लखनऊ होने के कारण थाने में दिया जाने वाला धरना स्थगित करने का व्हाट्स ऐप्प मैसेज किये जाने को लेकर भी कई तरह की चर्चाये है। दूसरी ओर राजा की हत्या का खुलासा होने के बावजूद चेयरमैन पारस जैन का वनवास ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा है। राजा बाल्मिकी के परिजनों द्वारा अपने समाज व भाजपाइयों को साथ लेकर थाने पर हंगामा किये जाने से हडबडाई कोतवाली पुलिस ने चार दिन पूर्व बाइक चोरी के मामले में मोदीपुरम से उठाये गये दानिश का मृतक के पिता बाबूलाल से सामना कराकर आधा अधूरा खुलासा कर दिया था। चर्चा है कि दानिश ने अपने मुंह से इनामी बदमाश विपुल खूनी का नाम तक नहीं लिया।
सीएम योगी ने डीएम शफक्कत कमाल और एसएसपी लव कुमार को हटाया, नागेंद्र प्रसाद सिंह डीएम और सुभाष चंद्र दुबे एसएसपी सहारनपुर बनाए गए
 सीसीटीवी केमरो में तीनों हत्यारों द्वारा सफेद जूते पहने होने की तस्वीर कैद है, जबकि दानिश ने बाबूलाल के सामने लाल जूते पहने होने की बात स्वीकार की। कुल मिलाकर राजा बाल्मिकी हत्याकांड के खुलासे की पुलिसिया कहानी नगरवासियों  के आसानी से गले नहीं उतर रही है। मृतक के पिता बाबूलाल के खुलासे में राजू व उसके भाई गोरव उर्फ गोरा का नाम एकदम स्पष्ट होने से उनकी आधे से ज्यादा तसल्ली तो हो ही गयी है। चर्चा है कि पुलिस ने चेयरमैन पारस जैन का तफ्तीश में मुक़दमे से नाम निकाला तो मुकदमे के वादी द्वारा कोर्ट में धारा 319 के अन्तर्गत उनपर कोर्ट में तलब होने की तलवार लटकी रहेगी।
‘यदि स्कूल में पढ़ना है तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जैसे बाल कटाने होंगे’..स्कूल में अभिभावकों ने किया हंगामा
यही कारण है कि पुलिस का सारा प्रयास चेयरमैन पारस जैन का तफ्तीश में नाम निकालने के बजाये वादी राणा प्रताप व उसके गवहा पिता बाबूलाल पर चेयरमैन से समझौता करने का दबाव बना रही है। इसकी पुष्टि बाबूलाल ने बुधवारक को थाने में सबके सामने की है। भाजपा नगर अध्यक्ष प्रशांत देशवाल के धरना स्थगित कर पुलिस को राहत पहुंचाने का प्रयास किये जाने को लेकर भी भाजपाईयों में चर्चाये व्याप्त है। दूसरी और राजा बाल्मीकि मर्डर का खुलासा होने के बावजूद चेयरमैन पारस जैन का वनवास खत्म नहीं हो रहा है। राजा बाल्मिकी की हत्या वाले दिन पांच अप्रैल से आज तक चेयरमैन पारस जैन सार्वजनिक रूप से कही भी दिखाई नहीं दिये है। इसके अलावा चर्चा है कि अपने बेटे दानिश को राजा मर्डर में झूठा फंसाये जाने का आरोप लगा सपा नेत्री हसीना बेगम पुलिस के खिलाफ कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है।

Share it
Share it
Share it
Top