यूरोपियन पॉवरलिफ्टिंग में रजत और भीम ने जीते स्वर्ण

यूरोपियन पॉवरलिफ्टिंग में रजत और भीम ने जीते स्वर्ण

नयी दिल्ली। भारत के रजत गोयल और भीम सिंह ने हॉलैंड में यूरोपियन पॉवरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में पहली बार उतरते हुये स्वर्ण पदक जीतकर तहलका मचा दिया। द्रोणाचार्य अवार्डी भूपेंद्र धवन के शिष्यों रजत और भीम ने हॉलैंड के कर्कड्रिल में आयोजित इस चैंपियनशिप में जबरदस्त प्रदर्शन किया और स्वर्ण पदक जीता। रजत ने क्लासिक रॉ 110 किलोग्राम वजन वर्ग में जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए कुल 600 किलोग्राम भार उठाकर स्वर्ण पदक जीता। उनका यह पहला अंतर्राष्ट्रीय पदक है। 
रजत ने पहली बार पॉवरलिफ्टिंग में भारत का प्रतिनिधित्व किया और साथ ही यूरोप तथा विश्व रिकॉर्ड बना दिया। रजत के साथ हॉलैंड में मौजूद भूपेंद्र धवन ने बताया कि रजत को फ्रांस और हॉलैंड के पॉवरलिफ्टरों से कड़ी चुनौती मिली लेकिन रजत स्वर्ण जीतने में कामयाब रहे और यूरोपियन चैंपियन बन गए। भूपेंद्र धवन ने कहा कि यह देश के लिए एक गौरवपूर्ण पल है। पॉवरलिफ्टिंग हॉलैंड के अध्यक्ष कोअर्ट हॉपनब्राउवर्स और सचिव अलबर्ट हॉक्स्ट्रा ने भारतीय पावरलिफ्टरों के प्रदर्शन की सराहना की। रजत ने अपने प्रदर्शन से तिरंगा बुलंद किया है।
जस्टिस कर्णन को सुप्रीम कोर्ट से तगड़ा झटका, मौखिक रूप से सुनवाई से इनकार
31 साल के रजत बंदायूं के रहने वाले हैं। इसी चैंपियनशिप में छत्तरपुर के भीम सिंह ने बेंच प्रेस 100 किलोग्राम में हिस्सा लिया और कुल 180 किलोग्राम वजन उठाकर स्वर्ण जीता। धवन ने भारतीय खिलाडियो के प्रयासों की सराहना करते हुये कहा कि वे आगे भी ऐसा प्रदर्शन जारी रखेंगे।

Share it
Top