मोबाइल फोन तथा एक्सेसरीज पर लगा 10 प्रतिशत बेसिक सीमा शुल्क

मोबाइल फोन तथा एक्सेसरीज पर लगा 10 प्रतिशत बेसिक सीमा शुल्क

नयी दिल्ली । सरकार ने आज से मोबाइल फोनों तथा एक्सेसरीज के आयात पर 10 प्रतिशत बेसिक सीमा शुल्क लगा दिया है। सरकार के इस फैसले से आयातित फोन महँगे हो सकते हैं।
वित्त मंत्रालय ने आज बताया कि मोबाइल फोन, उनके चार्जर, बैटरी, हेडसेट, माइक्रोफोन और रिसिवर, की-पैड, यूएसबी केबल आदि पर 01 जुलाई से 10 प्रतिशत बेसिक सीमा शुल्क लगाया गया है। सरकार ने सूचना प्रौद्योगिकी समझौता (आईटीए)-एक से बाहर के इलेक्ट्रॉनिक/आईटी/दूरसंचार उत्पादों पर सीमा शुल्क बढ़ाने के लिए संभावित उत्पादों की पहचान के लिए एक अंतरमंत्रालयी समिति बनायी थी।
लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसे में सरधना से सपा प्रत्याशी रहे पिंटू राणा की मौत

इसमें इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, वाणिज्य विभाग, दूरसंचार विभाग और राजस्व विभाग के अधिकारी शामिल थे। समिति की संस्तुति पर आयातित मोबाइल फोनों और एक्सेसरीज पर सीमा शुल्क लगाया गया है। ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देने तथा देश में निर्मित उत्पादों को प्रतिस्पर्द्धी बनाये रखने के लिए मोबाइलों के लिए प्रिंटेड सर्किट बोर्ड असेंबली, कैमरा मॉड्यूल, कनेक्टर्स डिस्प्ले असेंबली, टच पैनल/कवर ग्लास असेंबली, वाइब्रेटर मोटर/रिंगर आदि पर बेसिक सीमा शुल्क में जारी छूट को यथावत रखा गया है। साथ ही मोबाइल फोनों तथा एक्सेसरीज के उत्पादन में काम आने वाले कच्चा माल पर भी छूट जारी रहेगी। मंत्रालय ने बताया कि इस संबंध में शुक्रवार को अधिसूचना जारी कर दी गयी है।

Share it
Top